Rashid Khan - Kevin Pietersen
राशिद अफगानिस्तान के हालातों को लेकर सोशल मीडिया पर अपना दुख और चिंता जाहिर करते रहते हैं।

अफगानिस्तान में एक बार फिर से तालिबान युग की वापसी हो गई है। अफगान सरकार ने तालिबानियों के सामने घुटने टेक दिए हैं। इतना ही नहीं वहां के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने भी देश छोड़ दिया है और ताजिकिस्तान चले गए हैं। वहीं, क्रिकेटर राशिद खान भी अपने परिवार को लेकर चिंतित हैं। राशिद इस समय इंग्लैंड में ‘द हंड्रेड लीग’ में खेल रहे हैं, जबकि उनका परिवार अफगानिस्तान में फंसा हुआ है।

तालिबान के कब्जे के बाद अब हर कोई अफगानिस्तान से निकलने में लगा हुआ है। इसी बीच राशिद खान वहां के बिगड़ते हालातों को देखते हुए अपने परिवार की सुरक्षा के लिए परेशान हैं। इंग्लैंड के पूर्व बल्लेबाज केविन पीटरसन ने इस मामले में स्काई स्पोर्ट्स पर बातचीत करते हुए कहा, “मैंने राशिद खान के साथ काफी लंबी बातचीत की है। वे बहुत ज्यादा चिंतित हैं, क्योंकि वे अपने परिवार को अफगानिस्तान के बाहर नहीं निकाल पा रहे हैं।”

41 साल के दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने आगे कहा, “ऐसे हालात और तनाव में भी वे हंड्रेड लीग में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। मुझे लगता है कि यह सबसे ज्यादा दिल को छू लेने वाली कहानी होगी। उनके लिए यह वक्त काफी मुश्किल है।”

22 साल के युवा हरफनमौला खिलाड़ी द हंड्रेड टूर्नामेंट में ट्रेंट रॉकेट्स की तरफ से शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। राशिद अफगानिस्तान के हालातों को लेकर सोशल मीडिया पर अपना दुख और चिंता जाहिर करते रहते हैं। रविवार को भी खान साहब ने अपने अधिकारी ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट किया था, “शांति।” साथ ही अफगानिस्तान के तिरंगे वाली इमोजी भी पोस्ट की थी। इससे पहले भी उन्होंने दुनिया भर के बड़े लीडर्स से वहां के लोगों की मदद करने की अपील की थी।

Leave a comment

Cancel reply