buttler ipl crictoday
सबसे बेहतरीन विकेटकीपर-बल्लेबाज कौन?

इंग्लैंड के विकेटकीपर-बल्लेबाज जोस बटलर की एक और रिकॉर्ड-तोड़ पारी, जिसमें उनकी बॉल-स्ट्राइकिंग ने हैरान कर दिया: नीदरलैंड के विरुद्ध सिर्फ 47 गेंदों में अपना 10 वां वन डे शतक बनाया और कुल 70 गेंदों में 162* रन, जब वन डे में इंग्लैंड के सबसे तेज शतकों पर नजर दौड़ाएं तो बटलर का दबदबा साफ़ नजर आता है और टॉप पर नवंबर 2015 में पाकिस्तान के विरुद्ध उनका 46 गेंदों में शतक ही है। एक और रिकॉर्ड जिस पर, इस सीरीज के दौरान ध्यान नहीं दिया गया। बटलर अब इंग्लैंड के लिए वन डे में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले कीपर हैं (उनसे पहले : एलक स्टीवर्ट)। आईपीएल 2022 के बाद वन डे का मिजाज पर फॉर्म वही। इसी से ये चर्चा शुरू हुई कि क्या बटलर 50 ओवर इंटरनेशनल क्रिकेट के अब तक के सबसे बेहतर विकेटकीपर-बल्लेबाज हैं?

जब इस सवाल का जवाब ढूंढने की कोशिश करें तो ऐसा लगता है मानो गजब का हुनर का पिटारा खोल दिया हो। एक से बढ़कर एक विकेटकीपर बल्लेबाज, जिन्होंने विकेटकीपिंग और बल्लेबाजी दोनों में कमाल किया। विश्वास न हो तो देखिए (इस चर्चा में सिर्फ उन्हीं मैचों का रिकॉर्ड लिया है, जिनमें ये विकेटकीपर-बल्लेबाज दोनों की ड्यूटी पर थे) :

कुमार संगकारा (360 मैच, 13,341 रन, औसत 43.74, एसआर 80.15, 23 शतक, 482 डिसमिसल) : वन डे में लगभग 15 साल श्रीलंका के टॉप विकेटकीपर-बल्लेबाज। इस खब्बू ने 2007 और 2011 में श्रीलंका को लगातार विश्व कप फाइनल में पहुंचाने में मदद की। 18 शतक नंबर 3 पर जो उनकी टॉप बल्लेबाज की हैसियत का सबूत है।

एमएस धोनी (350 मैच, 10,773 रन, औसत 50.57, एसआर 87.56, 10 शतक, 444 डिसमिसल) : कमाल के फिनिशर और अपने समय में टॉप नंबर 5/ 6 थे। 2011 विश्व कप फाइनल में 91* और छक्के के साथ कप जीतना आज तक याद किए जाते हैं। 2007 से 2018 तक 200 वन डे मैचों में कप्तान और विश्व कप के साथ चैंपियंस ट्रॉफी भी जीते।

एडम गिलक्रिस्ट (282 मैच, 9,410 रन, औसत 35.64, एसआर 96.94, 16 शतक, 472 डिसमिसल) : स्ट्राइक रेट नोट कीजिए- कीपर-बल्लेबाज की भूमिका में वे कमाल थे। बड़े मैचों के लिए गजब का टेंपरामेंट- चाहे 1999 और 2003 विश्व कप फाइनल (अर्धशतक) या 2007 में श्रीलंका के विरुद्ध 104 गेंदों में 149 रन। गिलक्रिस्ट से बेहतर स्ट्राइक रेट से आज तक किसी ने वन डे में उनसे ज्यादा रन नहीं बनाए हैं।

एबी डी विलियर्स (59 मैच, 2,963 रन, औसत 70.54, एसआर 100.74, 10 शतक, 98 डिसमिसल) : थे तो शुद्ध बल्लेबाज पर टीम की जरूर में विकेटकीपिंग भी की, इसीलिए बल्लेबाजी में सबसे आगे वेस्टइंडीज के विरुद्ध 44 गेंदों में 149 रन (सबसे तेज अर्धशतक और शतक का रिकॉर्ड) कौन भूलेगा?

जोस बटलर (149 मैच, 4,034 रन, औसत 40.74, एसआर 121.10, 10 शतक, 214 डिसमिसल) : आज जिस की बल्लेबाजी देखकर सब हैरान हैं वह जोस बटलर हैं। हालांकि ज्यादा नंबर 6/7 पर खेले पर जहां भी मौका मिला रन बनाए। नंबर 4 पर 12 पारियों में 173.19 के स्ट्राइक रेट के साथ 63.88 का औसत इसका सबूत है।

आज क्रिकेट देखने वाले बड़ी आसानी से बटलर को सबसे बेहतर विकेटकीपर-बल्लेबाज कह देंगे और भारत में धोनी के मुकाबले किसी को टिकने नहीं देंगे, पर सच ये है कि अपने-अपने समय पर इन में से कोई किसी से कम नहीं था। दावेदार के तौर पर नाम तो और भी गिनाए जा सकते है पर ये वे हैं जो सिर्फ बल्लेबाजी के लिए ही किसी भी टॉप बल्लेबाज की जगह के हकदार। सबसे बेहतर चुनने के लिए पसंद अपनी-अपनी।

Leave a comment

Cancel reply