james anderson
ENG vs SA: कौन कहता है कि जेम्स एंडरसन बूढ़े हो गए हैं?

इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के बीच लॉर्ड्स टेस्ट से पहले, जितनी चर्चा ‘बेज़बॉल’ की है, उससे ज्यादा उस क्रिकेटर की है, जो 40+ की उम्र में टेस्ट खेलने के लिए तैयार है। जी हां, जिमी एंडरसन की बात हो रही है और कोई नहीं पूछ रहा कि 40 साल की उम्र पार तो वे कैसा खेलेंगे? सवाल तो ये पूछा जा रहा है कि वे कब तक खेलेंगे?

कुछ साल पहले लंदन की बसों के पीछे जिमी एंडरसन का एक पोस्टर ब्रो-विटामिन के एक प्रसिद्ध ब्रांड की एडवर्टाइजमेंट का लगा था। स्ट्रिपलाइन थी, ‘आई फील फैंटास्टिक’। उनका नाम इस एडवर्टाइजमेंट के लिए बिल्कुल सही था। जिमी एंडरसन- इंग्लैंड के टॉप विकेट लेने वाले गेंदबाज और इस समय टेस्ट क्रिकेट में नंबर 6 गेंदबाज। अभी भी धड़ल्ले से 140 किमी की तेजी वाली गेंद आराम से गेंद फेंकते हैं। इंटरनेशनल क्रिकेट में इस तेजी से गेंदबाजी करने वाले सबसे बड़ी उम्र के खिलाड़ी मान रहे हैं जानकार उन्हें।

उन्हें देख कर तो नहीं लगता कि ‘जिमी एंडरसन इज ओल्ड’ जैसी विदाई देने का वक्त आ गया है। क्रिकेटर आ रहे हैं और जा रहे हैं- वे अपनी जगह कायम हैं। स्टुअर्ट ब्रॉड और एंडरसन की वापसी उन शर्त में से एक थी जो स्टोक्स ने कप्तानी लेते हुए रखी थीं। वे गलत नहीं थे। टेस्ट क्रिकेट में जो ब्रेंडन मैकुलम उनके बाद आए, रिटायर भी हो गए और अब उनके बॉस हैं। और देखिए, एंडरसन ने सर एंड्रयू स्ट्रॉस से पहले टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया, स्ट्रॉस 100 टेस्ट खेले और 10 साल हो गए उन्हें रिटायर हुए। एंडरसन के बाद कई खिलाड़ियों ने टेस्ट डेब्यू किया, रिटायर हुए और अब अलग-अलग तरह की ड्यूटी पर हैं।

एंडरसन 40+ की उम्र में, इंग्लैंड के लिए टेस्ट खेलने वाले 53वें क्रिकेटर बनेंगे और 2003 में इस लिस्ट में शामिल हुए एलक स्टुअर्ट के बाद पहले। दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध लॉर्ड्स टेस्ट से पहले का टेस्ट करियर 19 साल 44 दिन (पहले टेस्ट की शुरुआत से आख़िरी टेस्ट खत्म होने तक) और सिर्फ 26 क्रिकेटर का करियर इससे भी लंबा चला।172 टेस्ट खेल चुके हैं और उनसे ज्यादा टेस्ट सिर्फ तेंदुलकर (200) के नाम हैं। 657 विकेट सिर्फ मुथैया मुरलीधरन (800) और शेन वार्न (708) उनसे आगे हैं इस मामले में। अगस्त 2004 और मार्च 2006 के बीच सिर्फ एक टेस्ट खेला ये भी पूरे खेलते तो न जाने क्या रिकॉर्ड होता। टेस्ट में 37,077 गेंदें फेंकी और मुरलीधरन, वॉर्न और अनिल कुंबले के नाम 40,000 से ज्यादा गेंद हैं पर ये सभी स्पिनर थे।

उम्र ने उनके विकेट लेने के जोश में कोई कमी नहीं की। 35 साल की उम्र के बाद 177 टेस्ट विकेट ले चुके हैं यानि कि एंगस फ्रेजर के कुल टेस्ट रिकॉर्ड के बराबर और इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा विकेट की लिस्ट में 20वें नंबर पर।

40 साल की उम्र में टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले बल्लेबाज की लिस्ट लम्बी है पर सीम गेंदबाज की बहुत छोटी। आखिरी नाम श्रीलंका के रंगना हेराथ का था। एक सीम गेंदबाज के 40 की उम्र में टेस्ट क्रिकेट खेलने की लिस्ट बनाएं तो बेवन कांगडन (न्यूजीलैंड), बेसिल डी’ओलिविएरा (इंग्लैंड), लेस जैक्सन (इंग्लैंड), ज्योफ चब (दक्षिण अफ्रीका), हाइन्स जॉनसन (वेस्टइंडीज), सर गबी एलन (इंग्लैंड),मौरिस टेट (इंग्लैंड), जॉर्ज गीरी (इंग्लैंड), निगेल हैग (इंग्लैंड) और चार्ल्स केलवे (ऑस्ट्रेलिया) के ही और नाम सामने आते हैं।

Leave a comment

Cancel reply