kl rahul-ajinkya rahane
वसीम ने कहा कि इस मैच में अजिंक्य रहाणे को टीम इंडिया का नेतृत्व करना चाहिए था।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर वसीम जाफर (Wasim Jaffer) ने भारत को दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ मिली जोहांसबर्ग टेस्ट (Johannesburg) में हार के बाद बड़ा बयान दिया है। उन्होंने इस टेस्ट मैच में टीम इंडिया की हार का कारण बताते हुए कहा है कि टीम में विराट कोहली की आक्रमकता रवैये की कमी दिखी। साथ ही वसीम ने कहा कि इस मैच में अजिंक्य रहाणे को टीम इंडिया का नेतृत्व करना चाहिए था।

43 साल के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने इनसाइडक्रिकेट शो (InsideCricket show) पर बातचीत करते हुए कहा कि मेजबान टीम के विरुद्ध टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच में कोहली (Virat Kohli) की अनुपस्थिति में अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) को कप्तानी मिलनी चाहिए थी। दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, “मैं टीम प्रबंधन से भी हैरान हूं, जब आपके पास अजिंक्य रहाणे हैं, जो एक कप्तान के रूप में कोई टेस्ट नहीं हारे और उनके नेतृत्व में भारत ने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीती। क्या आपको केएल राहुल (KL rahul) को टेस्ट कप्तानी देने की जरूरत है?”

उन्होंने आगे कहा, “मैं केएल राहुल के खिलाफ नहीं हूं। वह युवा हैं और उन्होंने आईपीएल में पंजाब किंग्स (Punjab Kings) की कप्तानी की है। लोग उन्हें भावी कप्तान के रूप में सोच रहे हैं, लेकिन मुझे लगता है कि रहाणे को कोहली की अनुपस्थिति में टीम का नेतृत्व करना चाहिए था।”

इसके अलावा मीम किंग के नाम से मशहूर वसीम जाफर ने कहा, “भारत ने निश्चित रूप से विराट कोहली को कप्तान के रूप में मिस किया, क्योंकि वह मैदान पर इतनी आक्रामकता लाते हैं, जब आपके पास मैदान पर ऐसा खिलाड़ी होता है तो आप जानते हैं कि यदि आप कोई गलती करते हैं तो आपको जवाबदेह ठहराया जाएगा, इसलिए भारतीय खेमे में इस ऊर्जा की कमी खली।”

Leave a comment

Cancel reply