अब इस पर वेस्‍टइंडीज के पूर्व दिग्‍गज तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने प्रतिक्रिया देते हुए अपनी नाराजगी जताई है.

पिछले महीने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने अपनी पुरुष और महिला दोनों टीम्स के पाकिस्तान दौरे रद्द कर दिए थे. बोर्ड ने इस निर्णय के बारे में बताते हुए कहा था कि वे पाकिस्तान दौरे से अपना नाम वापस ले रहे हैं. ईसीबी ने यह फैसला न्‍यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड के बाद लिया था, जिन्होंने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए अपना पाकिस्तान दौरा रद्द कर दिया था. अब इस पर वेस्‍टइंडीज के पूर्व दिग्‍गज तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग ने प्रतिक्रिया देते हुए अपनी नाराजगी जताई है. उन्होंने इंग्लैंड टीम पर ‘पश्चिमी अहंकार’ दिखाने का आरोप लगाया है.

67 साल के पूर्व कैरेबियाई ऑलराउंडर ने ईसीबी पर फटकार लगाते हुए कहा, “ईसीबी का बयान मेरी समझ से परे है. कोई कारण नहीं. कोई भी आगे आकर किसी चीज का सामना नहीं करना चाहता है, क्‍योंकि उन्‍हें पता है कि उन्‍होंने जो किया, वह गलत है. ईसीबी ने बयान जारी किया और फिर उसी के पीछे छिप गए. इससे मुझे वो याद आया कि उन्‍होंने ब्‍लैक लाइव्‍स मैटर के समय क्‍या किया था.”

होल्डिंग ने आगे कहा, “मैं उसकी तह में नहीं जाना चाहता हूं, क्‍योंकि मैं इस बारे में काफी कुछ कह चुका हूं. मगर मुझे जो संकेत मिला, वो वही पश्चिमी अहंकार है. मैं आपके साथ वैसा ही बर्ताव करूंगा, जैसा मेरा मन होगा. यह मायने नहीं रखता कि आप क्‍या सोच रहे हैं, मैं वही करूंगा जो मैं चाहता हूं.” ईसीबी ने अपने इस फैसले के पीछे का कारण खिलाड़ियों की मानसिक और शारीरिक भलाई बताई थी, क्योंकि इंग्लैंड के प्लेयर्स लंबे समय से सख्त कोविड-19 के बायो-बबल में रह रहे थे.

बहरहाल, इंग्लैंड की पुरुष और महिला टीम ने अक्टूबर में पाकिस्तान दौरे पर जाना था, लेकिन ईसीबी ने दोनों ही टीम्स के यह दौरे रद्द कर दिए. बोर्ड ने ट्विटर पर इसकी जानकारी दी थी. बता दें कि पाकिस्तान के इस दौरे पर इंग्लैंड की पुरुष टीम ने 2 टी20 मुकाबलों की सीरिज खेलनी थी, जबकि महिला टीम ने 2 टी20 मुकाबले और 3 एकदिवसीय मुकाबले खेलने थे.

Leave a comment