किरण मोरे का मानना है कि पंत, जो वर्तमान में अपने करियर के चरम पर हैं।

भारतीय टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज किरण मोरे ने ऋषभ पंत को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल और इंग्लैंड के विरुद्ध पांच मुकाबलों की टेस्ट सीरीज के लिए टीम इंडिया की तरफ से प्रमुख खिलाड़ी के तौर पर चुना है। 58 साल के पूर्व क्रिकेटर का मानना है कि पंत, जो वर्तमान में अपने करियर के चरम पर हैं। वे अपनी शानदार बल्लेबाजी से मैच का रुख अपनी टीम की तरफ बदलने का दम रखते हैं।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2020-21 बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में अपने बेहतरीन प्रदर्शन के बाद अब ऋषभ पंत टेस्ट प्रारूप में भारत के लिए अहम खिलाड़ियों में से एक बन गए हैं। मोरे ने एक बार फिर से पंत का समर्थन किया है और कहा कि वे इंग्लैंड के अपने आगामी दौरे में भारतीय टीम के लिए एक ‘गेम चेंजर’ की भूमिका निभाते हुए नज़र आ सकते हैं।

दाएं हाथ के पूर्व भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ने rediff.com को दिए इंटरव्यू में कहा, “मुझे लगता है कि ऋषभ पंत एक बार फिर विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल और इंग्लैंड के खिलाफ पांच मुकाबलों की टेस्ट सीरीज में भारत के लिए महत्वपूर्ण खिलाड़ी साबित होंगे। वे इस समय अपने खेल के शीर्ष पर हैं और मुझे लगता है कि पंत अपनी जबरदस्त बल्लेबाजी से खेल का रुख बदलने का माद्दा रखते हैं।”

किरण मोरे ने ऋषभ पंत के पिछले इंग्लैंड दौरे पर बात करते हुए कहा, “मेरे अनुसार से पंत अब अच्छी तरह से सेटल हो चुके हैं। इंग्लैंड का यह दौरा उनका दूसरा है। अगर आप वर्ल्ड कप 2019 की भी बात करते हैं तो फिर यह उनका तीसरा इंग्लैंड का दौरा होगा। उन्हें इंग्लिश परिस्थितियों का अच्छे से पता है और वे यहां एक टेस्ट शतक भी जड़ चुके हैं। वहीं पंत की विकेटकीपिंग में भी बहुत सुधार आया है।”

Leave a comment