पूर्व दिग्गज बल्लेबाज का भारत के प्रति प्रेम किसी से छिपा नहीं है.

भारत और न्यूजीलैंड के बीच आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला साउथेम्प्टन के रोज बाउल मैदान पर 18 से 22 जून तक खेला जाना है। दोनों टीम्स ने इस खिताबी टेस्ट मैच के लिए अपनी कमर कस ली है। कीवी टीम ने मेजबान के विरुद्ध दो मुकाबलों की टेस्ट सीरीज खेली थी, जबकि विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने इंट्रा स्कवाड मैच खेला था। अब इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज केविन पीटरसन ने कहा है कि भारत को प्रैक्टिस मैच नहीं खेलने के कारण डब्ल्यूटीसी फाइनल में नुकसान झेलना पड़ सकता है। उन्होंने टीम इंडिया पर तंज कसते हुए कहा कि आप इंग्लैंड में खेले जाने वाले टेस्ट मुकाबलों की तैयारी आईपीएल खेलकर नहीं कर सकते हैं।

40 साल के पूर्व इंग्लिश क्रिकेटर ने बेटवे के लिए लिखे अपने लेख में कहा, “न्यूजीलैंड की वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए तैयारियां शानदार हैं। उन्होंने इंग्लैंड के विरुद्ध दो मुकाबलों की टेस्ट सीरीज खेली और बेहतरीन प्रदर्शन किया। आप इंग्लैंड में होने वाले टेस्ट की तैयारी एक महीने पहले स्थगित हो चुके आईपीएल में खेलकर नहीं कर सकते और वह भी बिना किसी प्रॉपर वॉर्मअप मुकाबलों के।”

यह भी पढ़ें | “विराट कोहली और केन विलियमसन हैं दुनिया के सबसे महान बल्लेबाज”

केविन पीटरसन ने आगे कहा, “न्यूजीलैंड का पेस बॉलिंग अटैक इंग्लैंड के विरुद्ध शानदार था। टिम साउदी ने लॉर्ड्स में जबरदस्त प्रदर्शन किया था। मैट हेनरी ने एजबेस्टन में बेहतरीन गेंदबाजी की, जो कि फाइनल मैच भी नहीं खेलने वाले हैं। आपको एकमात्र टेस्ट मैच में सिर्फ एक या दो ही मौके मिलते हैं और मुझे डर है कि भारत तैयारियों के मामले में पीछे है।”

बता दें कि टीम इंडिया का रिकॉर्ड इंग्लैंड में कुछ खास अच्छा नहीं है। भारत ने इंग्लैंड की सरजमीं पर खेली गई अपनी पिछली तीनों ही टेस्ट सीरीज में हार का सामना किया था। भारतीय टीम साल 2011 में 0-4, 2014 में 1-3 और 2018 में 1-4 से टेस्ट सीरीज हारी थी। बहरहाल, भारतीय टीम ने गुरुवार को डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए अपनी अंतिम ग्यारह का ऐलान कर दिया।

डब्ल्यूटीसी फाइनल के लिए न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत की प्लेइंग इलेवन इस प्रकार है:

रोहित शर्मा, शुभमन गिल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी।