पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज इरफान पठान को लेकर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद ने एक विवादित बयान दिया था. इसपर पठान के पिता को काफी गुस्सा आया था और वह मियांदाद की खबर लेने पाकिस्तान क्रिकेट टीम के ड्रेसिंग रूम पहुंच गए थे. इरफान ने एक टीवी चैनल को ये किस्सा सुनाते हुए बताया कि मियांदाद के एक बयान से उनके पिता को काफी ठेस पहुंची थी.

साल 2004 में सौरभ गांगुली की कप्तानी में भारत ने पाकिस्तान का दौरा किया था. उस दौरे पर युवा इरफान भी टीम का हिस्सा थे. पाकिस्तान क्रिकेट टीम के उस समय के कोच जावेद मियांदाद ने तब कहा था कि इरफान जैसे गेंदबाज पाकिस्तान की गली-गली में मिल जाते हैं.

इरफान के पिता महमूद पठान को मियांदाद के इस बयान से काफी निराशा हुई और उन्होंने पाकिस्तानी कोच से मिलने की इच्छा जताई. वह टेस्ट मैच खत्म होने के बाद मियांदाद से ड्रेसिंग रूम में जाकर मिलना चाहते थे. हाल ही में क्रिकेट से संन्यास लेने वाले इरफान ने बताया, “मुझे याद है जावेद मियांदाद ने कुछ ऐसा कह दिया था कि मेरे जैसे गेंदबाज पाकिस्तान की हर गली में मिल जाते हैं. मेरे पिता और मैंने भी इस खबर के बारे में पढ़ा था, हमें यह अच्छा नहीं लगा.”

पठान ने आगे बताया, “मुझे अच्छे से याद है कि सीरीज के आखिरी मैच में मेरे पिता मैच देखने पाकिस्तान गए. वह मेरे पास आए और कहा कि मैं पाकिस्तान के ड्रेसिंग रूम में मियांदाद से मिलना चाहता हूं. जैसे ही मेरे पिता को मियांदाद ने देखा, वह खड़े हो गए और उन्होंने कहा- मैंने आपके बेटे के बारे में ऐसा कुछ भी नहीं कहा.” बता दें कि भारत ने यह सीरीज 2-1 से जीती थी.

Leave a comment

Cancel reply