इरफ़ान पठान ने विराट कोहली को आक्रामक कप्तान बताया है.

साउथेम्पटन में खेले जा रहे आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप 2021 के फाइनल में दोनों ही टीम्स ने अभी तक शानदार खेल दिखाया है. यह ऐतिहासिक मुकाबला बेहद रोमांचक मोड़ पर जा चुका है. अगर बारिश और खराब रौशनी दखल नहीं देती तो यह मैच अभी तक समाप्त हो जाता, लेकिन बारिश और खराब रौशनी ने कई बार इस मैच का मजा किरकिरा किया है.

न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले भारतीय टीम को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया था. इसके बाद भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 217 रन बनाए. उसके बाद कीवी टीम ने पहली पारी में 249 रन बनाते हुए 32 रनों की बढ़त हासिल की. पांचवें दिन का खेल समाप्त होने तक भारत ने 2 विकेट के नुकसान पर 64 रन बना लिए थे. टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (8) और चेतेश्वर पुजारा (12) क्रीज़ पर जमे हुए थे. ऐसे में विराट सेना को 32 रनों की बढ़त मिल चुकी है. ऐसे में विराट सेना को 32 रनों की बढ़त मिल चुकी थी, लेकिन अगले दिन कीवी तेज गेंदबाज काइल जैमीसन ने दोनों ही खिलाड़ियों को सस्ते में ही पवेलियन की राह दिखाई.

वहीं, भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर इरफ़ान पठान ने विराट कोहली को लेकर बड़ा बयान दिया है. पठान का मानना है कि आखिरी दिन के पहले सेशन में कोहली और पुजारा टीम के लिए टिककर बल्लेबाजी करेंगे. उन्होंने कोहली को आक्रामक कप्तान बताया है.

उन्होंने कहा, “हम जानते हैं कि विराट कोहली बहुत आक्रामक कप्तान हैं. वह हमेशा हमेशा जीत के लिए जाए हैं, लेकिन वह इस स्थिति को भी समझेंगे कि न्यूजीलैंड थोड़ा आगे है, लेकिन उस एक घंटे में, अगर हम एक से ज्यादा विकेट नहीं गंवाते हैं, तो मैं समझता हूं कि कोहली आक्रामक साबित होंगे. जाहिर है उस एक घंटे में चेतेश्वर पुजारा भी काफी अहम होंगे.”

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस ऐतिहासिक मैच के पहले दिन का खेल बारिश की भेंट चढ़ गया था. इसके बाद दूसरे और तीसरे दिन कुल मिलाकर 141.1 ओवर का ही खेल हो सका. इतना ही नहीं, मैच के चौथे दिन का खेल भी बारिश से धुल गया. हालांकि, पांचवें दिन 81 ओवर का खेल हुआ. यह ऐसा दिन रहा, जिसमें सबसे ज्यादा घंटों का खेल हो पाया.

Leave a comment