कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के कारण लीग रद्द होने से पहले सीएसके अंक तालिका में दूसरे स्थान पर थी।

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन में जबरदस्त प्रदर्शन के लिए एमएस धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स की जमकर तारीफ की है। कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के कारण लीग रद्द होने से पहले सीएसके अंक तालिका में दूसरे स्थान पर थी। चेन्नई टीम ने 7 मुकाबलों में से 5 में जीत दर्ज की थी।

धोनी की इस टीम की सफलता इसलिए भी बहुत खास है, क्योंकि आईपीएल 2020 में सीएसके सातवें स्थान पर थी और आईपीएल के इतिहास में पहली बार वे प्लेऑफ में जगह बनाने में नाकाम रही थी। पिछले साल के खराब प्रदर्शन को भूलते हुए तीन बार की चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स ने आईपीएल के इस सीजन में शानदार प्रदर्शन किया।

71 साल के पूर्व कप्तान ने स्पोर्ट्स स्टार में अपने कॉलम में लिखा, “आईपीएल 2021 में चेन्नई सुपर किंग्स पूरी तरह बदली दिखाई दी। टीम ने कई नए खिलाड़ियों के साथ शुरुआत की। गेम प्लान से लेकर खिलाड़ियों के फॉर्म तक टीम ने हर पहलू पर ध्यान दिया और इसी कारण से ज्यादातर मौकों पर धोनी की सीएसके विरोधी टीम पर हावी नज़र आई।”

आईपीएल 2021 में सीएसके ने अपनी शानदार वापसी से गावस्कर को बहुत प्रभावित किया। उन्होंने कहा कि इस सीजन धोनी एंड कंपनी में एक ‘नई ऊर्जा’ दिखाई दी थी। दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने आगे लिखा, “अन्य सभी टीम्स इस आईपीएल में शानदार फॉर्म लेकर लौटीं थीं, लेकिन सीएसके पर पिछले आईपीएल में खराब प्रदर्शन का दबाव था। मगर यह टीम इससे बिखरी नहीं, बल्कि नई ऊर्जा के साथ मैदान पर उतरी और ये दिखाया कि वे असल चैंपियन टीम है। वे भी टीम में बिना बड़ा बदलाव किए।”

सुनील गावस्कर ने एमएस धोनी की कप्तानी की तारीफ की और टीम की बल्लेबाजी के लिए कहा, “मोइन अली को तीन नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजना टीम के लिए मास्टरस्ट्रोक साबित हुआ। उन्होंने कई मौकों पर सीएसके के लिए ताबड़तोड़ पारियां खेलीं। सलामी बल्लेबाज फाफ डुप्लेसी भी शानदार फॉर्म में नजर आए। उन्होंने ऋतुराज गायकवाड़ के साथ टीम को कई मौकों पर मजबूत और अच्छी शुरुआत दिलाई। सैम करण की गेंदबाजी में भी हर मैच के साथ सुधार आता गया और एक ऑलराउंडर के रूप में वे अपनी पहचान बनाने में सफल रहे।”

Leave a comment