सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ शानदार जीत के बाद 26 साल के श्रेयस अय्यर ने कहा कि वे टीम की रणनीति समझते हैं और उसका पूरा सम्मान करते हैं।

दिल्ली कैपिटल्स के धाकड़ बल्लेबाज श्रेयस अय्यर ने बुधवार को सनराइजर्स हैदराबाद के विरुद्ध मुकाबले में जबरदस्त प्रदर्शन किया। अय्यर ने इस मैच में नाबाद 47* रनों की शानदार पारी खेली। उन्होंने मैच के बाद आईपीएल 2021 में टीम की कप्तानी पर प्रतिक्रिया दी। दरअसल, श्रेयस इस सीजन का पहला फेज कंधे की चोट के कारण नहीं खेल पाए थे, जिसके चलते टीम प्रबंधन ने उनकी जगह ऋषभ पंत को DC की कमान सौंपी थी।

सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ शानदार जीत के बाद 26 साल के श्रेयस अय्यर ने कहा कि वे टीम की रणनीति समझते हैं और उसका पूरा सम्मान करते हैं। उन्होंने कहा, “जब मुझे कप्तानी सौंपी गई थी तो मैं मानसिक तौर पर अलग तरह की स्थिति में था तथा निर्णय लेने की मेरी क्षमता और सहनशीलता का स्तर बहुत अच्छा था और मुझे पिछले दो सालों में इसका लाभ मिला है।”

दाएं हाथ के बल्लेबाज ने आगे कहा, “यह फ्रेंचाइजी का निर्णय है और उन्होंने जो भी निर्णय लिया है मैं उसका सम्मान करता हूं। ऋषभ पंत सत्र के शुरू से ही अच्छी तरह से टीम का नेतृत्व कर रहे हैं और उन्हें लगा कि पंत को सत्र के आखिर तक कप्तान बनाए रखना चाहिए और मैं इस फैसले का पूरा सम्मान करता हूं।”

अय्यर ने अपने खेल को लेकर भी बात की और कहा, “कोई बड़ा बदलाव नहीं आया है। अब मैं बल्लेबाजी पर अधिक ध्यान दे रहा हूं, जब मैं कप्तान था तो मुझे दबाव में खेलना पसंद था। दबाव होता है तो आपके सामने अधिक चुनौतियां होती हैं और ऐसी परिस्थितियों में मैं अच्छा प्रदर्शन करता हूं।”

इसके अलावा उन्होंने SRH के विरुद्ध अपने प्रदर्शन पर कहा, “यहां तक कि आज (बुधवार) जब मैं क्रीज पर उतरा तो मैच जीतने का दबाव था। विकेट में उछाल थी तो मेरी सोच वही थी कि आखिर तक टिके रहकर मैच जीतना है।” मैच की बात करें तो सनराइजर्स हैदराबाद पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 135 रनों पर ऑलआउट हो गई थी। इसके बाद दिल्ली कैपिटल्स ने 13 गेंदें शेष रहते हुए 2 विकेट पर 136 रनों का लक्ष्य हासिल कर लिया था।

Leave a comment