राजस्थान रॉयल्स के बाएं हाथ के युवा तेज गेंदबाज चेतन सकारिया ने आईपीएल 2021 में शानदार प्रदर्शन करते हुए सबको प्रभावित किया है।

राजस्थान रॉयल्स के बाएं हाथ के युवा तेज गेंदबाज चेतन सकारिया ने आईपीएल 2021 में शानदार प्रदर्शन करते हुए सबको प्रभावित किया है। वे गुजरात के भावनगर जिले के रहने वाले हैं। चेतन घर पहुंचते ही अपने पिता से मिलने सीधे अस्पताल पहुंचे। दरअसल, उनके पिता कांजीभाई कोरोना से संक्रमित हैं और अस्पताल में भर्ती हैं।

आईपीएल 2021 की नीलामी में राजस्थान रॉयल्स ने 22 साल के युवा भारतीय पेसर को 1 करोड़ 2 लाख रूपए में खरीदा था। चेतन सकरिया ने ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ को दिए इंटरव्यू में अपने इस अनुभव के बारे में कई खुलासे किए। उन्होंने कहा, “मैं बहुत भाग्यशाली हूं, कुछ दिन पहले ही राजस्थान रॉयल्स ने मुझे मेरी फीस दी है। मैंने सीधे वे पैसे घर ट्रांसफर कर दिए, जिससे मेरे परिवार की इस कठिन समय पर मदद हो रही है।”

चेतन के पिता कांजीभाई टैंपो ड्राइवर हैं। सकरिया जैसे घरेलू क्रिकेटर्स के लिए आईपीएल से कमाया हुआ पैसा ही उनकी आजीविका का साधन होता है। चेतन ने आगे कहा, “लोग कह रहे हैं कि आईपीएल बंद करो, मैं उन्हें कुछ बताना चाहता हूं, मैं अपने परिवार में एकमात्र कामने वाला इंसान हूं। क्रिकेट मेरी कमाई का एकमात्र स्रोत है। मैं अपने पिता को आईपीएल से मिले पैसे की वजह से बेहतर इलाज दे सकता हूं। अगर यह टूर्नामेंट एक महीने के लिए नहीं होता, तो यह मेरे लिए बेहद मुश्किल हो जाता। मैं एक बेहद गरीब परिवार से आता हूं। मेरे पिता ने सारी जिंदगी टैंपो चलाया और आईपीएल की वजह से मेरी पूरी जिंदगी बदलने वाली थी।”

आईपीएल 2021 में सकारिया ने अपने कौशल और क्षमता से सबको प्रभावित किया। उन्होंने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 7 विकेट चटकाए। चेतन ने राजस्थान रॉयल्स के कप्तान संजू सैमसन को लेकर कहा, “संजू भाई ने आकर मुझे बताया कि मैनेजमेंट मुझ पर भरोसा करता है और अच्छे प्रदर्शन कि उम्मीद कर रहा है। इसलिए तैयार रहें, आप खेल रहे हैं। मुझे उस रात नींद नहीं आई, मैं सोचता रहा कि मैं कैसे गेंदबाजी करूंगा, मैं विकेट कैसे लूंगा, ऐसे गेंद डालूंगा या वैसे डालूं कुछ समझ नहीं आ रहा था।”

Leave a comment