रविवार को हैदराबाद में खेले गए आईपीएल 12 के फाइनल में मुंबई ने चेन्नई पर 1 रन से जीत दर्ज कर चौथी बार आईपीएल का खिताब अपने नाम किया. मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में 149/8 का स्कोर खड़ा किया था, जिसके जवाब में चेन्नई सलामी बल्लेबाज शेन वॉटसन (80) के शानदार अर्धशतक की मदद से भी लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाए. हालांकि चेन्नई की टीम जीत के बेहद करीब पहुंच गई थी, लेकिन लसिथ मलिंगा ने शार्दुल ठाकुर को मैच की आखिरी गेंद पर एलबीडब्ल्यू कर चेन्नई के हलक से जीत छीन ली.

मैच के बाद मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने खुलासा करते हुए कहा कि वे लसिथ मलिंगा से नहीं बल्कि हार्दिक पांड्या से आखिरी ओवर डलवाना चाहते थे. हालांकि उन्होंने ऐसा नहीं किया.

रोहित ने कहा, “मलिंगा ने वही किया, जो एक चैंपियन गेंदबाज करता है. एक खराब ओवर के बावजूद मुझे उन पर पूरा भरोसा था. उन्हें भी खुद पर भरोसा था कि वह हमें जीत दिला सकते हैं. एक पल के लिए मैंने हार्दिक के बारे में सोचा, लेकिन मलिंगा ने इसे कई बार हमारे लिए कर दिखाया था तो मैंने उन्हें मौका दिया.”

बता दें कि चेन्नई को आखिरी ओवर में जीत के लिए 9 रन चाहिए थे, वहीं मलिंगा ने 7 रन देकर टीम को जीत दिलाई.

Leave a comment

Cancel reply