इंजमाम ने पीसीबी और क्रिकेट वेस्टइंडीज पर निशाना साधा है।

पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने पाकिस्तान और वेस्टइंडीज़ के बीच खेली जाने वाली आगामी टी20 सीरीज को लेकर पीसीबी को लताड़ा है। दरअसल, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच 27 जुलाई से पांच मुकाबलों की टी20 सीरीज शुरू होनी थी, लेकिन श्रृंखला का पहला मैच अब 28 जुलाई को खेला जाएगा, जिसमें पांच मुकाबलों की सीरीज को घटाकर चार मैच की कर दी है। यह फैसला वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली गई तीन मुकाबलों की एकदिवसीय श्रृंखला के दौरान कैरेबियाई टीम में एक कोरोना मामले के सामने आने के बाद लिया गया था। इसी पर इंजमाम ने पीसीबी और वेस्टइंडीज क्रिकेट पर निशाना साधा है।

51 साल के पूर्व कप्तान ने अपने यूट्यूब चैनल पर बातचीत करते हुए कहा, “यह समझ में नहीं आता कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) इस पर कैसे सहमत हुआ या वेस्टइंडीज बोर्ड ने ऐसा प्रस्ताव कैसे दिया। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि वेस्टइंडीज टीम में एक कोविड-19 का केस आया था, जिसके बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला को दोबारा से रीशड्यूल किया गया था, लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ टी20 सीरीज का इससे क्या लेना-देना है? पीसीबी इसके लिए कैसे राजी हो सकता है?”

इंजमाम के अनुसार, मैच को कम करने की कोई जरूरत नहीं थी, क्योंकि श्रृंखला के अंत में बचा हुआ एक मैच खेला जा सकता था। दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, “अंतिम टी20 मुकाबला 3 अगस्त को खेला जाएगा, जबकि टेस्ट सीरीज 12 अगस्त से शुरू होगी। इसलिए नौ दिनों का अच्छा अंतर है, जिसमें एक टी20 मैच का आयोजन आसानी से हो सकता है। अगर वेस्टइंडीज किसी मैच को रद्द करना चाहता है तो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के दौरान ऐसा हो जाना चाहिए था।”

उन्होंने आगे कहा, “वेस्टइंडीज ने जो किया है वह पाकिस्तान क्रिकेट के लिए अपमानजनक है। मैं हैरान हूं कि पाकिस्तान अपमानित होने के लिए कैसे तैयार हो गया। आप ऐसा नहीं कर सकते हैं। यह अंतर्राष्ट्रीय मैच हैं न कि क्लब मैच, जहां आप कह सकते हैं कि मैं इस टीम टीम के साथ मैच खेल सकता हूं, लेकिन उस टीम के साथ नहीं खेलूंगा।” अब पाकिस्तान और वेस्टइंडीज के बीच चार मुकाबलों की टी20 सीरीज खेली जाएगी, जिसका पहला मैच 28 जुलाई को होगा। इसके बाद दोनों टीम्स के बीच दो टेस्ट मुकाबलों की श्रृंखला होगी।

Leave a comment