टीम इंडिया ने वेस्‍टइंडीज को उसके घर में नेस्‍तनाबूद कर दिया और वह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ घरेलू सीरीज की तैयारियों में जुटी हुई है। बता दें कि टीम इंडिया ने वेस्‍टइंडीज का उसके घर में सूपड़ा साफ कर दिया। विराट ब्रिगेड ने पहले तीन मैचों की टी20 अंतरराष्‍ट्रीय सीरीज 3-0 से, फिर तीन मैचों की वनडे सीरीज 2-0 से और फिर दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज 2-0 से अपने नाम की। विराट कोहली के नेतृत्‍व वाली भारतीय टीम अब 15 सितंबर से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टी20 अंतरराष्‍ट्रीय सीरीज खेलेगी। प्रोटियाज टीम की कमान युवा क्विंटन डी कॉक के हाथों में होगी।

टीम इंडिया वेस्‍टइंडीज में मिली विजयी लय को बरकरार रखते हुए प्रोटियाज टीम का खस्‍ता हाल करना चाहेगी, लेकिन उसे पिछले आंकड़ें को ध्‍यान रखते हुए सतर्क भी रहना होगा। पिछली बार जब दक्षिण अफ्रीका की टीम भारत दौरे पर आई थी तो उसने भारत को टी20 अंतरराष्‍ट्रीय सीरीज में मात दी थी। इस बार कोहली सेना उस हार का बदला भी लेना चाहेगी।

बहरहाल, दोनों ही टीमों में ऐसे धाकड़ खिलाड़ी शामिल हैं, जो इस सीरीज को बेहद रोमांचक बनाने का दम रखते हैं। भारत के जिन तीन खिलाडि़यों को हमने इस लिस्‍ट में शामिल किया है, उनके प्रदर्शन पर फैंस की बारीकी से नजर रहेगी क्‍योंकि भविष्‍य में इसके कई मायने निकलकर सामने आने हैं।

चलिए आपको बताते हैं कि भारत-दक्षिण अफ्रीका टी20 अंतरराष्‍ट्रीय सीरीज में किन 6 खिलाडि़यों पर फैंस की नजरें रहेंगी:

क्विंटन डी कॉक : 26 साल के डी कॉक टी20 अंतरराष्‍ट्रीय सीरीज में प्रोटियाज टीम की अगुवाई करेंगे। वह कप्‍तान के तौर पर इस सीरीज को बेहद खास बनाना चाहेंगे। क्विंटन डी कॉक ने अब तक 36 टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेले और 2 अर्धशतकों की मदद से 887 रन बनाए। इस दौरान उनकी औसत 27.71 की रही। कॉक को आईपीएल में खेलने का अनुभव हासिल है, जिसकी मदद से वह टीम इंडिया की नाक में दम कर सकते हैं। कॉक ने भारत के खिलाफ एक ही टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेला, जिसमें वह 6 रन बनाकर आउट हुए। इसके अलावा उन्‍होंने भारत में कुल 4 टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेले, जिसमें 38.25 की औसत से 153 रन बनाए। यहीं उन्‍होंने अपने टी20 अंतरराष्‍ट्रीय करियर की सर्वश्रेष्‍ठ पारी 52 रन की खेली। विकेटकीपर बल्‍लेबाज कॉक चाहेंगे कि वह अपने नेतृत्‍व में दक्षिण अफ्रीका को यादगार जीत दिलाएं।

डेविड मिलर :  ‘किलर-मिलर’ के नाम से लोकप्रिय बल्‍लेबाज को किसी भी गेंदबाजी आक्रमण की धज्जियां उड़ाने में महारत हासिल है। 30 वर्षीय मिलर दक्षिण अफ्रीका के सीमित ओवर के ही खिलाड़ी हैं और उनके रिकॉर्ड भी शानदार है। प्रोटियाज बल्‍लेबाज टी20 अंतरराष्‍ट्रीय और आईपीएल दोनों में शतक जमा चुका है। बाएं हाथ के बल्‍लेबाज ने अब तक 70 टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैचों में 30.02 की औसत से 1291 रन बनाए हैं। उन्‍होंने इस दौरान एक शतक और दो पचासे जड़े। मिलर पिछले कुछ समय से फॉर्म को तरस रहे हैं, लेकिन वे भारतीय पिचों पर बेहद घातक हो जाते हैं और टीम इंडिया के लिए सबसे बड़ा सिरदर्द बन सकते हैं। भारत के खिलाफ भी हालांकि मिलर का रिकॉर्ड शानदार नहीं है। उन्‍होंने 7 टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैचों में सिर्फ 81 रन बनाए। मिलर की कोशिश होगी कि वह राष्‍ट्रीय टीम की जर्सी में आईपीएल वाला प्रदर्शन दोहराए और टीम को सफलता दिलाएं।

कगिसो रबाडा : दक्षिण अफ्रीका के प्रमुख तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा किसी भी बल्‍लेबाजी क्रम का कबाड़ा करने का दम रखते हैं। रबाडा ने इस साल आईपीएल में दिल्‍ली कैपिटल्‍स के लिए उम्‍दा प्रदर्शन किया। उनके सुपर ओवर का वीडियो आज भी यू-ट्यूब पर फैंस सर्च करते हैं। रबाडा ने अब तक 19 टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेले हैं, जिसमें उन्‍होंने 25 विकेट हासिल किए। उनका सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन 30 रन देकर तीन विकेट लेना है। 24 साल के रबाडा ने भारत के खिलाफ दो टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेले, लेकिन उन्‍हें सिर्फ एक सफलता हाथ लगी। वहीं भारत में उन्‍होंने 5 मैचों में 6 विकेट चटकाए हैं। कगिसो रबाडा अपने आईपीएल की लय को भारत के खिलाफ टी20 अंतरराष्‍ट्रीय सीरीज में भी जारी रखना चाहेंगे और भारतीय फैंस का दिल जीतने के लिए भरपूर प्रयास करेंगे।

ऋषभ पंत : एमएस धोनी के उत्‍तराधिकारी माने जा रहे ऋषभ पंत आलोचनाओं के दौर से गुजर रहे हैं। वह खराब शॉट खेलकर आउट हो जाते हैं और उनके छोटे से करियर की तुलना दिग्‍गज एमएस धोनी से की जा रही है। इतनी उम्‍मीदों का बोझ लिए पंत को अब दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खुद को साबित करना होगा। बाएं हाथ के बल्‍लेबाज ने अब तक 18 टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेले, जिसमें दो अर्धशतकों की मदद से 302 रन बनाए हैं। उनका सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोर नाबाद 65 रन है, जबकि इस दौरान उनकी औसत 21.57 की रही। 21 साल के विकेटकीपर बल्‍लेबाज ने अब तक दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एक भी टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैच नहीं खेला है, लेकिन हां आईपीएल में प्रोटियाज गेंदबाजों का सामना करने का अच्‍छा खासा अनुभव है युवा पंत के पास।  युवा विकेटकीपर बल्‍लेबाज की कोशिश होगी कि वह कुछ उम्‍दा पारियां खेलकर भारत को जीत दिलाएं और अपनी उपयोगिता साबित करें।

हार्दिक पांड्या : टीम इंडिया के स्‍टार ऑलराउंडर अब वापसी को तैयार हैं। विश्‍व कप के बाद हार्दिक को अच्‍छा खासा ब्रेक मिला और वह क्रिकेट के मैदान पर धमाल मचाने को बेकरार हैं। पांड्या ऐसे खिलाड़ी हैं, जो टीम की जरूरत के हिसाब से अपने खेल में बदलाव करने का प्रयास करते हैं। उनके रहने से विराट ब्रिगेड को बहुत मजबूती मिलेगी। हार्दिक पांड्या भी दमदार प्रदर्शन करके अपनी वापसी को सार्थक ठहराना चाहेंगे। उन्‍होंने अब तक 38 टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैच खेले, जिसमें 296 रन बनाए। दाएं हाथ के बल्‍लेबाज का सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोर नाबाद 33 रन है। वह प्रोटियाज टीम के खिलाफ जरूर बड़ी पारी खेलना चाहेंगे। इसके अलावा उन्‍होंने गेंदबाजी में 36 विकेट चटकाए हैं। हार्दिक का सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन 38 रन देकर चार विकेट लेना है। हार्दिक पांड्या की कोशिश आते ही मैदान पर छा जाने की होगी और वह टीम इंडिया का ट्रंप कार्ड कहलाना पसंद करेंगे। हालांकि उन्‍हें अपने भाई क्रुणाल पांड्या से कड़ी टक्‍कर मिलेगी, जिन्‍हें वेस्‍टइंडीज में मैन ऑफ द सीरीज चुना गया था।

नवदीप सैनी : टीम इंडिया की नई सनसनी नवदीप सैनी ने बहुत प्रभावित किया है। 26 वर्षीय तेज गेंदबाज लगातार 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने में सक्षम हैं। वेस्‍टइंडीज दौरे पर टी20 अंतरराष्‍ट्रीय डेब्‍यू करने वाले सैनी ने तीन मैचों में 5 विकेट चटकाए। इससे पहले आईपीएल में यह गेंदबाज काफी बेहतर गेंदबाजी करके अपना लोहा मनवा चुका है। अब हरियाणा के गेंदबाज से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दमदार प्रदर्शन की उम्‍मीद है।

बता दें कि नवदीप, पंत और हार्दिक तीनों ही अगले साल ऑस्‍ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्‍व कप के लिए चयन के दावेदारों में शुमार हैं। इसलिए इन तीनों को इस विशेष सूची में शामिल किया गया है ताकि, जो बेहतर प्रदर्शन करेगा, उनका दावा और मजबूत होगा।

Leave a comment

Cancel reply