"भारत ने इंग्लैंड के दौरे का सम्मान नहीं किया, सभी खिलाड़ियों को IPL में खेलने की चिंता थी"

इंग्लैंड और भारत के बीच पांच मुकाबलों की टेस्ट सीरीज का आखिरी मैच रद्द होने के बाद क्रिकेट के जानकारों के बीच जुबानी बहस जारी है. भारतीय खेमे में कोरोना वायरस की एंट्री के बाद बीसीसीआई ने मैनचेस्टर टेस्ट खेलने से मना कर दिया था, क्योंकि बोर्ड को डर था कि यदि वे मैच खेलेंगे तो 19 सितंबर से संयुक्त अरब अमीरात में आयोजित होने वाला आईपीएल 2021 का दूसरा चरण खटाई में पड़ सकता है.

मैनचेस्टर टेस्ट कैंसिल होने के बाद इंग्लैंड के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर पॉल न्यूमैन ने बीसीसीआई और आईपीएल की कड़ी आलोचना की है. उन्होंने कहा है कि भारतीय टीम ने इंग्लैंड दौरे का सम्मान नहीं किया और उन्होंने कोरोना वायरस के दिशानिर्देशों की धज्जियां उड़ाते हुए टेस्ट क्रिकेट का भी सम्मान नहीं किया.

न्यूमैन ने कहा, “पहले दिन की सुबह ही सीरीज के आखिरी टेस्ट को रद्द करने का कोई मतलब नहीं है. ऐसा इसलिए किया गया, क्योंकि भारत के अधिकांश खिलाड़ियों को IPL के लिए दुबई जाना था. IPL से जुड़ा कोई भी भारतीय खिलाड़ी इस टेस्ट में खेलने का जोखिम नहीं उठाना चाहता था.”

उन्होंने कहा, “अगर कोई भी टेस्ट में पॉजिटिव आ जाता तो उसे इंग्लैंड में 10 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रहने के लिए मजबूर होना पड़ता और इस तरह वो खिलाड़ी 19 सितंबर को संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले IPL 2021 के दूसरे चरण में खेलने से चूक जाता.”

इंग्लिश क्रिकेटर ने आगे कहा, “भारत ने इस सीरीज का सम्मान नहीं किया और उन्होंने चौथे टेस्ट से पहले कोविड के दिशानिर्देशों की धज्जियां उड़ाते हुए टेस्ट क्रिकेट का भी सम्मान नहीं किया.”

गौरतलब है कि इंग्लैंड और भारत के बीच आखिरी मैच रद्द होने के बाद टेस्ट सीरीज का परिणाम क्या होगा, इस पर सस्पेंस बना हुआ है. फ़िलहाल, भारत 2-1 से आगे है.

Leave a comment