भारतीय टीम के दिग्गज सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा को उनकी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाना जाता है. क्रिकेट का कोई भी फॉर्मेट हो, हिटमैन तेज बल्लेबाजी ही करना पसंद करते हैं. अहमदाबाद टेस्ट में रोहित शर्मा ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 96 गेंदों में 11 चौकों की मदद से 66 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली. उन्हें स्पिनर जैक लीच ने अपना शिकार बनाया. 

वहीं, दूसरी तरफ अंग्रेजों के विरुद्ध डे-नाईट टेस्ट में रोहित शर्मा की अर्धशतकीय पारी के बाद टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज शिव सुंदर दास ने उनकी तारीफ की है. साथ ही उन्होंने कप्तान कोहली और अजिंक्य रहाणे को लेकर भी अपनी राय रखी.

उन्होंने कहा, "कोहली के आउट होने के बाद नाइट वाच मैन की जगह अजिंक्य रहाणे का खुद आना अच्छी पहल थी और जिस तरह से उन्होंने पैर आगे निकालकर गेंद को रोका वह दर्शाता कि वह कितने आत्मविश्वास से भरे हुए हैं." हालांकि, रहाणे मैच के अगले दिन सस्ते में पवेलियन लौट गए. 

उन्होंने आगे कहा, "देखिए, जिस तरह से रोहित बल्लेबाजी करते हैं. उस वक्त पिच काफी आसान नजर आने लगती है. उस समय पिच का का मूल्यांकन करना काफी गलत हो जाता है, जब तक रोहित शर्मा क्रीज पर हैं तब तक चिंता करने की कोई बात नहीं रहती."  

Leave a comment