इंग्लैंड की टीम जो रुट की कप्तानी में सीरीज शुरू करेगी चेन्नई में पर खुद अपने लिए भी रुट एक ख़ास टेस्ट खेलेंगे – ये रुट का 100 वां टेस्ट होगा। रिकॉर्ड बनाने वाले इंग्लैंड के 15 वें क्रिकेटर। इस ख़ास टेस्ट में रुट क्या करने वाले हैं? उनकी श्रीलंका में दिखाई शानदार फार्म को देखकर सट्टा बाजार में उनके 100 के स्कोर का भाव बड़ा गर्म है। क्या उनका नाम उन क्रिकेटर की लिस्ट में आएगा जिन्होंने अपने 100 वें टेस्ट में सेंचुरी बनाई ?  

वैसे वे ऐसे 11 वें क्रिकेटर बनेंगे जो अपना 100 वां टेस्ट भारत के विरुद्ध खेले। जो 10  नाम उनसे पहले इस लिस्ट में हैं उन्होंने अपने इस यादगार टेस्ट में क्या किया था ? देखिए  :
 
जावेद मियांदाद (पाकिस्तान), दिसंबर 1989, लाहौर : जावेद ने सेंचुरी (145) बनाई और बात यहीं ख़त्म नहीं होती। वे ऐसे पहले क्रिकेटर बने जिसने अपने डेब्यू और 100 वें टेस्ट में 100 का स्कोर बनाया। 

ग्राहम गूच (इंग्लैंड), जनवरी 1993, कोलकाता : ग्राहम गूच अपने इस 100 वे टेस्ट में कप्तान थे – सिर्फ 17 और 18 के स्कोर बनाए और 8 विकेट से टेस्ट हारे यानि कि टेस्ट कतई यादगार नहीं रहा।  

मार्क वॉ (ऑस्ट्रेलिया), जनवरी 2000, सिडनी : वे बैट के साथ ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और 32 रन बनाए पर ऑस्ट्रेलिया को कामयाबी मिली और वे पारी और 141 रन से टेस्ट जीत गए। 

कार्ल हूपर (वेस्टइंडीज), अक्टूबर 2002, मुंबई : अपने 100 वें टेस्ट तक पहुँचने के लिए हूपर ने 14+ साल ले लिए पर इतना लंबा इंतज़ार कोई यादगार नहीं रहा।सिर्फ 23 और 1 के स्कोर बनाए जबकि भारत ने टेस्ट पारी और 112 रन से जीता।  

ग्लेन मैकग्रा (ऑस्ट्रेलिया), अक्टूबर 2004, नागपुर : 100 टेस्ट का रिकॉर्ड बनाने वाले 30 वे क्रिकेटर, 8 वे ऑस्ट्रेलियाई और 6 वें गेंदबाज़ बने। 5 विकेट लिए 106  रन देकर (वीरेंद्र सहवाग , राहुल द्रविड़ और तेंदुलकर भी इनमें) और साथ ही टेस्ट में 450 विकेट पूरे किए।  

इंज़माम उल हक़ (पाकिस्तान), मार्च 2005, बैंगलोर : उनके लिए क्या गज़ब का टेस्ट साबित हुआ।जावेद की तरह सेंचुरी (184- अपने 100 वे टेस्ट में सबसे बड़ा स्कोर) बनाई। पाकिस्तान ने उनकी कप्तानी में टेस्ट जीता 168 रन से।  
एबी डी विलियर्स (दक्षिण अफ्रीका), नवंबर 2015 ,बंगलूरू : यहां अपना यह रिकॉर्ड टेस्ट खेलते हुए डी विलियर्स को कतई यह नहीं लगा कि वे बाहर खेल रहे हैं क्योंकि आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स के लिए खेलते हैं। टेस्ट ड्रॉ रहा और उन्होंने 85 रन बनाए।    

स्टुअर्ट ब्रॉड (इंग्लैंड), नवंबर 2016, राजकोट : इंग्लैंड को उनसे बड़ी उम्मीद थी पर कुछ हासिल नहीं हुआ।बैट के साथ 6* और 1-78 की गेंदबाज़ी। टेस्ट ड्रा रहा।  

रॉस टेलर (न्यूजीलैंड), फरवरी 2020, वेलिंगटन : टेस्ट में जो एक पारी खेली उसमें 44 रन बनाए पर टीम के लिए ये यादगार टेस्ट रहा क्योंकि 10 विकेट से जीत गए।  

नाथन लियोन (ऑस्ट्रेलिया), जनवरी 2021, ब्रिस्बेन : ये तो वही टेस्ट है जिसमें भारत ने जीत के साथ इतिहास बनाया। दोनों पारी में लियोन ने 1-65 और 2- 85 की साधारण गेंदबाज़ी।  

इसकी तुलना में बैट से 14 और 13 के स्कोर बनाए। 

Leave a comment