भारत और इंग्लैंड के बीच चार मुकाबलों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच चेन्नई के चेपक स्टेडियम में खेला जा रहा है। इस टेस्ट में टीम इंडिया के स्पिनर कुलदीप यादव को अंतिम ग्यारह में मौका नहीं दिया गया। ऐसे में कई दिग्गज खिलाड़ियों ने भारतीय टीम के इस फैसले पर हैरानी जताते हुए अपनी प्रतिक्रिया दी है।

भारत के पूर्व क्रिकेटर दीप दासगुप्ता को लगता है कि कुलदीप यादव को अंतिम ग्यारह में रखने का मौका था, क्योंकि अक्षर पटेल चेन्नई टेस्ट से पहले चोटिल हो गए थे। कुलदीप एक मैच विजेता हैं और वह इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में रविचंद्रन अश्विन और वॉशिंगटन सुंदर के साथ खेल सकते थे, लेकिन उनकी जगह शाहबाज नदीम को मौका दिया गया।

दीप दासगुप्ता ने स्पोर्ट्स टुडे से बातचीत करते हुए कहा, ”ऑस्ट्रेलिया में कुलदीप को मौका देने का एक अवसर था, लेकिन उसे अंतिम एकादश में शामिल नहीं किया गया। वहीं, चेन्नई टेस्ट में भी एक अच्छा अवसर आया था, लेकिन इस बार भी उन्हें मौका नहीं दिया गया। मुझे लगता है कि एक महत्वपूर्ण सवाल है।”

उन्होंने आगे कहा, ”शायद कुछ स्पष्टता की आवश्यकता है, क्योंकि वह युवा है और उसे आगे बहुत क्रिकेट खेलना है। ऐसा हो सकता है कि उसे कुछ सुधार की जरूरत हो, जो उससे अपेक्षित किया जा रहा है। मुझे लगता है कि अभी उसको बहुत सारा क्रिकेट खेलना है। वह वास्तव में अच्छा गेंदबाज है। वह एक मैच विजेता है।”

गौरतलब है कि कुलदीप यादव ने 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला में टेस्ट में डेब्यू किया था। हालांकि, उन्होंने अभी तक छह टेस्ट खेले हैं, जिसमें 24 विकेट चटकाए हैं। भारतीय स्पिनर ने आखिरी बार जनवरी 2019 में एससीजी में टेस्ट मुकाबला खेला था, जिसमें उन्होंने पांच विकेट लिए थे।

Leave a comment

Cancel reply