जैमीसन ने कहा कि डब्ल्यूटीसी मुकाबले के अंतिम दिन उन्होंने खुद को बाथरूम में कैद कर लिया था.

हाल ही में न्यूजीलैंड ने आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप 2021 के फाइनल में टीम इंडिया को 8 विकेट से पराजित कर इतिहास रच दिया. ब्लैककैप्स डब्ल्यूटीसी जीतने वाली पहली टीम बनी. इस दौरान कीवी तेज गेंदबाज काइल जैमिसन ने भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली को दोनों पारियों में अपना शिकार बनाकर सनसनी फैला दी थी. कोहली ने पहली पारी में 132 गेंदों का सामना करते हुए 44 रन बनाए थे. उन्होंने सिर्फ एक ही चौका बटोरा था. उन्हें दाएं हाथ के कीवी पेसर ने एलबीडब्लू कर अपना शिकार बनाया.

इसके बाद दूसरी पारी में भी भारतीय कप्तान को जैमीसन ने ही विकेटकीपर बीजे वॉटलिंग के हाथों लपकवाकर आउट किया. कोहली ने 29 गेंदों का सामना करते हुए 13 रन बनाए थे. दाएं हाथ के पेसर ने इस मैच में 7 विकेट अपने नाम किए थे, जिसके बाद उन्हें मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया. अब उन्होंने खुद को लेकर बड़ा खुलासा किया है. जैमीसन ने कहा कि डब्ल्यूटीसी मुकाबले के अंतिम दिन उन्होंने खुद को बाथरूम में कैद कर लिया था.

जैमीसन ने कहा, “देखने के मामले में यह शायद क्रिकेट का सबसे कठिन दौर था, जिसका मैं हिस्सा रहा हूं. हम ड्रेसिंग रूम में अंदर बैठे थे और वास्तव में टीवी पर देख रहे थे. टेलीविजन पर सीधा प्रसारण थोड़ी (कुछ सेकेंड) देरी से हो रहा था. मैदान में मौजूद भारतीय दर्शक हर गेंद पर ऐसे शोर कर रहे थे, जैसे विकेट गिर गया हो. हालांकि, वह एक रन या डॉट गेंद होती थी.”

उन्होंने आगे कहा, “यह देखना काफी कठिन था. मैंने वास्तव में कई बार बाथरूम में जाने की कोशिश की, जहां कोई शोर नहीं था, बस थोड़ी देर के लिए उससे दूर हो गया, क्योंकि यह काफी तनाव हो रहा था, लेकिन केन और टेलर का मैदान पर होना अच्छा था. हमारे दो सबसे महान बल्लेबाजों ने वास्तव में स्थिति को नियंत्रित किया और अपना काम पूरा किया.”

Leave a comment