कैसे खेलें पुल शॉट?

पुल क्रिकेट के सबसे बेहतरीन अटैकिंग शॉट्स में से एक है। ये ऐसा क्रॉस-बैटेड शॉट है, जो शॉर्ट पिच डिलीवरी पर लेग साइड की ओर बैक फुट से खेला जाता है। इसे गलतफहमी में हुक से मिला दिया जाता है पर ये हुक से अलग है क्योंकि यह कमर के ऊपर या उसके आसपास खेला जाता है और इस पर कंट्रोल आसान होता है।

पुल को शरीर के सामने फ़ैली बाजुओं के साथ खेला जाता है और आमतौर पर स्क्वायर के सामने मारा जाता है। बहुत से धाकड़ बल्लेबाज भी इस शॉट को सफाई से नहीं खेल सकते हैं, लेकिन जो खेलते हैं उनमें से कई दुनिया के कुछ बेहतरीन बल्लेबाज गिने गए। डॉन ब्रैडमैन से लेकर आधुनिक दौर के महान खिलाड़ी जैसे तेंदुलकर, पोंटिंग, लारा और रोहित शर्मा जैसे पुल-शॉट के माहिर की लिस्ट में हैं ।

सही पुल शॉट कैसे खेलें

ये क्रिकेट में सबसे आकर्षक शॉट्स में से एक है, लेकिन अगर इसे सही तरीके से नहीं लगाया तो बहुत महंगा पड़ेगा। देखिए पुल शॉट को खेलने के लिए कुछ सुझाव :

गेंदबाज के हाथ में गेंद को देखें : गेंदबाज के हाथ में गेंद को देखना बहुत जरूरी है। एक बार लेंथ का पता लग गया तो गेंद की लाइन का पता लगाना आसान हो जाता है।

वजन पिछले पैर पर ट्रांसफर : गेंद की लेंथ पता चल जाए तो बल्लेबाज को बैट को क्षैतिज शॉट खेलने की स्थिति में तैयार करने के साथ-साथ पिछले पैर पर वजन ट्रांसफर करना है।

हवा में न मारें : जैसे गेंद करीब आए तो बल्लेबाज को गेंद को स्वीट स्पॉट से हिट करने और नीचे रखने की कोशिश करनी चाहिए, क्योंकि हवा में हिट करने की कोशिश करने से कैच जा सकता है। हां, फील्ड प्लेसमेंट का फायदा उठा सकते हैं, तब हवाई शॉट की कोशिश कर सकते हैं। गेंद पर ध्यान और शॉट पर कंट्रोल सबसे ख़ास है, इसे हिट करने का इरादा है तो पूरे विश्वास के साथ खेलें।

सबसे बेहतर पुल शॉट खेलने वाले खिलाड़ी

दुनिया में पुल शॉट के कुछ बेहतरीन खिलाड़ी वे हैं जिन्होंने आम तौर पर फ्रंट फुट प्ले से ज्यादा बैक फुट पर खेलना पसंद किया:

सर डोनाल्ड ब्रैडमैन : सर्वकालिक महान बल्लेबाज, बैक फुट शॉट खेलना पसंद करते थे और पुल शॉट को लोकप्रियता दिलाने वालों में से एक थे। बेशक वे कोई भी शॉट खेल सकते थे लेकिन बैकफुट खिलाड़ी थे और विकेट के दोनों तरफ पुल और कट खेलना पसंद करते थे।

सचिन तेंदुलकर : 200 टेस्ट खेलने वाले एकमात्र खिलाड़ी जो सभी शॉट अच्छी तरह से खेल सकते थे पर खूबी ये कि पुल शॉट को बराबर अच्छी तरह और जमीन के साथ खेल सकते थे। पुल खेलते समय कभी जल्दी में नहीं दिखते थे और अक्सर मर्जी से शॉट खेलने के लिए उनके पास समय होता था। सचिन ने भारी बैट इस्तेमाल किया, लेकिन क्रॉस-बैटेड पुल शॉट खेलने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं हुई।

ब्रायन लारा : आधुनिक युग के सबसे स्टाइलिश बाएं हाथ के खिलाड़ी लारा, पुल शॉट को इतनी जोर से मारते थे जैसे मानो उसके ‘मास्टर’ हों। इसी में वे नटराज पोज बनाते थे जो आज तक याद है। लारा के पुल शॉट के बारे में ख़ास बात ये थी कि इसे देर से और बड़ी ताकत से खेलते थे- गेंद करीब, ऊंचा बैकलिफ्ट जिससे सही समय पर सही पुल शॉट खेलने के लिए बैट को गेंद पर ले आते थे।

रिकी पोंटिंग : किताबी स्टाइल से खेलते थे- ख़ास तौर पर तब जब गेंदबाज ने गेंद की लेंथ में थोड़ी गलती कर दी, तो पोंटिंग ने तो गेंद को बाउंड्री पर भेजना ही है। पुल शॉट खेलते समय उनका वजन ट्रांसफर करना अदभुत था।

रोहित शर्मा : पुल शॉट खेलने में रिकी पोंटिंग को अगर कोई कड़ी टक्कर दे सकता है तो वे रोहित शर्मा हैं- उनके पुल शॉट की एक विशेषता ये है कि हमेशा हवा में हिट करते दिखते हैं और कई बार बॉउंड्री पार करने में कामयाब नहीं होते, खासकर स्क्वायर लेग बाउंड्री के पीछे। रिकॉर्ड के हिसाब से 2015 के बाद से इंटरनेशनल क्रिकेट में पुल शॉट से सबसे ज्यादा रन रोहित शर्मा ने बनाए हैं।

Leave a comment