हार्दिक का खराब प्रदर्शन बना 'बर्बादी' की वजह, उनकी जगह लेने वाले दो खिलाड़ियों के नाम आए सामने!

श्रीलंका के विरुद्ध सीमित ओवर्स सीरीज के लिए टीम इंडिया की कप्तानी सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को सौंपी गई है। वैसे तो इस रेस में स्टार हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या का नाम भी था, लेकिन चयनकर्ताओं ने धवन पर भरोसा जताते हुए उन्हें टीम का कप्तान नियुक्त किया, जबकि तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार को इस दौरे के लिए भारतीय टीम का उप-कप्तान बनाया गया। इसी बीच हार्दिक के बचपन के कोच जितेंद्र सिंह ने ऑलराउंडर को कप्तानी नहीं दिए जाने पर निराशा व्यक्त की है।

जितेंद्र सिंह ने क्रिकेटनेक्सट को दिए इंटरव्यू में कहा कि वे हार्दिक को श्रीलंका दौरे पर कप्तान नहीं बनाए जाने के फैसले से हैरान थे। उन्होंने कहा, “वे एक अच्छा विकल्प हो सकते थे, क्योंकि हार्दिक पांच से सात साल तक खेल सकता है। उनके पास नए विचार हैं और उनमें बहुत ऊर्जा है। हार्दिक (कप्तानी में) एक अच्छा निवेश हो सकते थे, खासतौर पर सफेद गेंद के प्रारूप के लिए।” बता दें कि हार्दिक पांड्या ने अब तक भारत के लिए 11 टेस्ट, 60 वनडे और 48 टी20 खेले हैं।

पिछले काफी समय से हार्दिक पांड्या की गेंदबाजी को लेकर खूब चर्चा हो रही है, क्योंकि उन्होंने आईपीएल के पिछले दो सीजन में एक भी ओवर गेंदबाजी नहीं की है। इतना ही नहीं पांड्या ने भारतीय टीम के लिए भी नियमित रूप से गेंदबाजी नहीं की। इस पर जितेंद्र सिंह ने प्रतिक्रिया दी।

यह भी पढ़ें | ‘यारों के यार’ एमएस धोनी ने दोस्तों संग उठाया लंच का लुफ्त, सोशल मीडिया पर वायरल हुई तस्वीर

उन्होंने कहा, “मैं चाहता हूं कि हार्दिक एक ऑलराउंडर के रूप में और अधिक प्रदर्शन करें। अगर उनका अलाइनमेंट और गेंदबाजी एक्शन बेहतर है तो वह जरूर करेंगे। वे अपनी गेंदबाजी को लेकर बहुत गंभीर हैं।” हालांकि, उनके बचपन कोच ने यह भी कहा कि हार्दिक एक बल्लेबाज के रूप में बहुत अच्छे हैं, क्योंकि वे किसी भी स्थिति में आकर शानदार बल्लेबाजी कर सकते हैं। वहीं, भारत और श्रीलंका के बीच तीन मुकाबलों की वनडे सीरीज 18 जुलाई से खेली जाएगी।