हनुमा विहारी ने कहा है कि इंग्लैंड का दौरा कठिन होगा, लेकिन उन्होंने भारत के अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद जताई है।

भारतीय टीम इंग्लैंड दौरे में पहले न्यूजीलैंड के विरुद्ध विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलेगी और इसके बाद इंग्लैंड के खिलाफ पांच मुकाबलों की टेस्ट सीरीज खेलेगी। बता दें कि भारतीय टीम इस दौरे के लिए 2 जून को ब्रिटेन रवाना होगी। भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच 18 जून से साउथेम्प्टन में खेला जाएगा। भारत की टेस्ट टीम के मध्यमक्रम के बल्लेबाज हनुमा विहारी ने कहा है कि इंग्लैंड का दौरा कठिन होगा, लेकिन उन्होंने भारत के अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद जताई है।

विहारी ने इंडिया टुडे से बातचीत करते हुए कहा, “यह हम सभी जानते हैं, लेकिन भारतीय टीम बेहतरीन प्रदर्शन कर सकती है। मुझे यकीन है कि हम WTC फाइनल में जाने के लिए आश्वस्त होंगे। मैं WTC और उसके बाद टेस्ट सीरीज के लिए जितना हो सके सर्वश्रेष्ठ तैयारी करने की कोशिश कर रहा हूं।”

हनुमा विहारी आखिरी बार ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2020-21 बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में खेले थे। उन्होंने सिडनी क्रिकेट ग्राउंड में अजिंक्य रहाणे की अगुवाई वाली टीम के लिए तीसरा टेस्ट मैच बचाने के लिए हैमस्ट्रिंग के चोट के साथ बल्लेबाजी की थी।

चोट से उबरने के बाद विहारी अब आगामी WTC फाइनल और इंग्लैंड के खिलाफ चार अगस्त से शुरू हो रही पांच मुकाबलों की टेस्ट सीरीज में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे।

27 साल के दाएं हाथ के बल्लेबाज ने अपने प्रदर्शन को लेकर कहा, “मैं WTC फाइनल और इंग्लैंड सीरीज के लिए सर्वोत्तम तरीके से तैयारी करने की कोशिश कर रहा हूं। यह सभी भारतीय फैंस के लिए भी दिलचस्प और रोमांचक होने जा रहा है, क्योंकि यह WTC का पहला सीजन है। हम फाइनल में हैं और हम न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलेंगे, जो इस स्थिति में चुनौतीपूर्ण होगा।”

Leave a comment