tendulkar-kohli
उन्होंने कहा है कि विराट को सचिन तेंदुलकर के नक्शे कदम पर चलने की जरूरत नहीं है। उन्हें थोड़ा धैर्य रखना चाहिए।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने भारत की टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की हालिया फॉर्म को लेकर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने कहा है कि विराट को सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के नक्शे कदम पर चलने की जरूरत नहीं है। उन्हें थोड़ा धैर्य रखना चाहिए। दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के विरुद्ध खेली जारी रही तीन मुकाबलों की टेस्ट सीरीज के पहले मैच में कोहली ऑफ-स्टंप से बाहर वाली गेंदों पर आउट हुए थे। ऐसे में कई महान खिलाड़ियों ने कहा कि विराट को सचिन से सीख लेनी चाहिए।

44 साल के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत करते हुए कहा, “विराट कोहली थोड़ा और धैर्य दिखा सकते हैं। याद कीजिए नए साल का टेस्ट मैच, सिडनी (Sydney Test) में साल 2004 में खेला गया था, जब सचिन तेंदुलकर ने एक भी कवर ड्राइव नहीं खेला था। इससे पहले वह कवर‌ ड्राइव खेलने के चक्कर में आउट हो रहे थे।”

उन्होंने आगे कहा, “मैं यह नहीं कह रहा हूं कि वह उस रास्ते से हट जाएं, क्योंकि सचिन के पास विराट की तुलना में अधिक शॉट थे, लेकिन फिर भी यह नुस्खा हो सकता है। मुझे नहीं लगता कि कोहली को बाउंसर खेलने में कोई समस्या है। यह सिर्फ यह जानने के बारे में है कि आपका ऑफ स्टंप कहां है।”

दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, “उछाल पर कोहली को भरोसा करना चाहिए ताकि वह गेंद को थोड़ा और छोड़ सकें। बाउंसर पर आपको गेंद की लाइन को गलत तरीके से पढ़ने की भी जरूरत नहीं है। आप बोल्ड नहीं होने जा रहे हैं, क्योंकि गेंद स्टंप्स के ऊपर से जा रही होगी।”

उल्लेखनीय है कि विराट कोहली दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध जोहांसबर्ग के वांडरर्स स्टेडियम में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मुकाबले में नहीं खेल रहे हैं। वह पीठ में जकड़न के कारण इस मैच का हिस्सा नहीं हैं। बता दें कि मैच के पहले दिन मेहमान टीम की पहली पारी मात्र 202 रनों के स्कोर पर सिमट गई थी, जिसके बाद पहले दिन का खेल समाप्त होने तक मेजबान टीम ने पहली पारी में 1 विकेट के नुकसान पर 35 रन बना लिए थे।

Leave a comment

Cancel reply