न्यूजीलैंड के खिलाफ हारने के बाद टीम इंडिया को अब इंग्लैंड के विरुद्ध पांच मुकाबलों की टेस्ट सीरीज खेलनी है.

भारत के खिलाफ अगले महीने खेली जाने वाली पांच मुकाबलों की टेस्ट सीरीज से पहले इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने बड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. उन्होंने कहा है कि अब रोटेशन पॉलिसी को समाप्त करने का समय आ गया है, जिससे कि भारत के विरुद्ध और एशेज सीरीज में मजबूत टीम उतारी जा सके. रूट का मानना है कि चयनकर्ताओं को आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे चक्र के लिए इंग्लैंड की मजबूत टीम का चयन करने पर ध्यान देना चाहिए.

रूट का यह बयान भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज की शुरुआत से कुछ दिनों पहले आया है. ऐसे में सवाल उठ रहा है कि क्या इंग्लैंड के कप्तान जो रूट के पसीने छूट रहे हैं?

उन्होंने कहा, “हम ऐसे समय में आ गए हैं, जहां आराम और रोटेशन की नीति को पीछे छोड़ना होगा. उम्मीद करते हैं कि अगर सभी फिट हुए तो हम अपनी सर्वश्रेष्ठ उपलब्ध टीम उतारेंगे. यह काफी रोमांचक होगा और मैं इसे लेकर उत्सुक हूं.”

रूट ने कहा, “हमें दो शानदार प्रतिद्वंद्वियों के खिलाफ 10 बेहद कड़े टेस्ट खेलने हैं, लेकिन यह हमारे पास दमदार क्रिकेट खेलने का शानदार मौका है और अगर सभी फिट और उपलब्ध हुए तो हमारे पास अच्छी टीम होगी.”

दाएं हाथ के बल्लेबाज ने कहा, “मैं चाहता हूं कि अगले पांच टेस्ट के दौरान हम अपनी सबसे मजबूत टीम को खिलाने का प्रयास करें या इन मुकाबलों के लिए हमारी सबसे मजबूत टीम उपलब्ध हो. ऐसा हम आगामी श्रृंखलाओं विशेषकर एशेज की तैयारी के लिए करेंगे. सुनिश्चित करेंगे कि इन बड़े मैचों के दौरान सभी अपनी फॉर्म के शीर्ष पर हों.”

Leave a comment