दानिश कनेरिया ने दीपक चाहर की बल्लेबाजी की जमकर प्रशंसा की।

भारतीय टीम ने मंगलवार को खेले गए दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में श्रीलंका को 3 विकेट से मात देते हुए तीन मुकाबलों की वनडे सीरीज में 2-0 से बढ़त बना ली है। भारत की तरफ से तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने 8वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए टीम को यह रोमांचक जीत दिलाई। चाहर ने 82 गेंदों पर 69* रनों की नाबाद मैच विनिंग पारी खेली। इसी बीच पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर दानिश कनेरिया ने दीपक चाहर की बल्लेबाजी की जमकर प्रशंसा करते हुए पाकिस्तानी बल्लेबाजों को पर निशाना साधा है।

40 साल के पूर्व लेग स्पिनर ने अपने यूट्यूब चैनल पर बातचीत करते हुए कहा, “दीपक चाहर को पूरा श्रेय। पाकिस्तान के बल्लेबाजों को उनसे सीख लेनी चाहिए। दीपक चाहर गेम को आखिर तक ले गए। वे विकेट पर खड़े रहे और उन्होंने चतुराई से स्ट्राइक रोटेट की साथ ही बीच-बीच में बाउंड्री भी लगाई। चाहर और भुवनेश्वर कुमार के बीच आखिर में जबरदस्त साझेदारी हुई। भले ही इस दौरान भुवनेश्वर कुमार ने सिर्फ 19 रन बनाए हों, लेकिन ये किसी भी 50 रन से कम नहीं थे।”

दानिश कनेरिया ने यह भी कहा कि दीपक चाहर ने अंत तक खेल को ले जाने की कला महेंद्र सिंह धोनी से सीखी है। संयोग से धोनी और चाहर आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स में खेलते हैं और एमएस टीम के कप्तान हैं। दाएं हाथ के पूर्व गेंदबाज ने कहा, “चाहर और भुवि को धन्यवाद, भारत ने सीरीज जीती और अब हम आखिरी वनडे मुकाबले में कुछ बदलाव देख सकते हैं। उन्होंने पहले दो विकेट लिए और फिर काफी समझदारी से बल्लेबाजी की। उन्होंने कोई अनावश्यक शॉट नहीं खेले और विकेट गिरने पर खेल को अंत तक ले जाने के एमएस धोनी की फिलॉसफी को लागू किया। यह भारत का शानदार प्रदर्शन था।”

दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार ने 8वें विकेट के लिए 84* रनों की नाबाद बेहतरीन साझेदारी निभाई और टीम को जीत की दहलीज तक पहुंचाया। श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 9 विकेट के नुकसान पर 275 रन बनाए थे। भारत ने 276 रनों का लक्ष्य 5 गेंदे शेष रहते हुए हासिल किया और 2-0 से सीरीज में अजेय बढ़त बना ली।

Leave a comment