kohli pujara leeds test crictoday
'भारत के पास दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज मौजूद हैं' इंग्लैंड के पूर्व कप्तान का बयान

क्रिकेट के नियम बनाने वाली संस्था मेरिलबोन क्रिकेट क्लब ने बुधवार को पुरुष और महिला बल्लेबाजों को लेकर बड़ा निर्णय लिया है. एमसीसी ने ऐलान किया है कि अब पुरुष और महिला दोनों के लिए बैट्समैन के बजाय बैटर शब्द का इस्तेमाल किया जाएगा.

एमसीसी ने एक बयान में कहा, “जेंडर-न्यूट्रल (जिसमें किसी पुरुष या महिला को तवज्जो नहीं दी गई हो) शब्दावली का इस्तेमाल सभी के लिए एक सा होने पर क्रिकेट के दर्जे को बेहतर करने में मदद करेगा. ये संशोधन इस क्षेत्र में पहले से किए गए कार्य का स्वाभाविक विकास और खेल के प्रति एमसीसी की वैश्विक जिम्मेदारी का जरूरी हिस्सा है.”

उन्होंने आगे कहा, “एमसीसी क्रिकेट को सभी के लिए एक खेल मानता है और यह कदम आधुनिक समय में खेल के बदलाव को मान्यता देता है. यह समय इस फैसले को आधिकारिक रूप से मान्यता देने के लिए सही है और हम नियमों के सरंक्षक के रूप में इन बदलावों की घोषणा करके खुश हैं.”

मालूम हो कि मेरीलेबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) लंदन में एक क्रिकेट क्लब है, जिसकी स्थापना 1787 में की गई थी. काफी प्रभावी और पुराना होने के कारण क्लब के निजी सदस्य क्रिकेट के विकास के लिए समर्पित हैं. यह लंदन के सेंट जोन्स वुड में लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड में स्थित है.

गौरतलब है कि एमसीसी क्रिकेट के नियमों का निर्माण करता है और इसका कॉपीराइट होल्डर भी है. यह भूमिका निरंतर दबाव में है, क्योंकि आईसीसी विश्वस्तरीय खेल के सभी पहलुओं पर नियंत्रण रखती है. एमसीसी हमेशा से क्रिकेट के खेल की कोचिंग में शामिल रही है.

Leave a comment

Cancel reply