'जब सौरव-सहवाग को खराब फॉर्म के चलते बाहर कर सकते हैं तो अब ऐसा क्यों नहीं?' पूर्व दिग्गज ने उठाए सवाल

दिग्गज भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली (Virat Kohli) की फॉर्म पर काफी समय से चर्चा चल रही है। कोहली के खामोश बल्ले को देखते हुए कई दिग्गज खिलाड़ी और क्रिकेट एक्सपर्ट्स उन्हें टीम से ड्रॉप करने की सलाह दे चुके हैं। इसी क्रम अब टीम इंडिया के पूर्व गेंदबाज़ वेंकटेश प्रसाद (Venkatesh Prasad) ने भी इशारों-इशारों में कोहली को टीम से हटाने की बात कही है।

52 साल के वेंकटेश प्रसाद ने रविवार रात अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा, “एक समय था, जब फॉर्म से बाहर होने के चलते सौरव, सहवाग, युवराज, जहीर, भज्जी को टीम से बाहर कर दिया गया था। वे दोबारा घरेलू क्रिकेट खेलने लगे। रन बनाए, विकेट चटकाए और फिर वापसी की। मगर अब मानदंड काफी बदल गए हैं।”

दाएं हाथ के पूर्व तेज गेंदबाज ने आगे लिखा, “आजकल फॉर्म से बाहर होने पर आराम दे दिया जाता है। यह आगे बढ़ने का तरीका नहीं है। देश में बहुत प्रतिभा है और ऐसे में आप सिर्फ प्रतिष्ठा पर नहीं खेल सकते।” उन्होंने आगे लिखा, “भारत के सबसे महान मैच विजेता अनिल कुंबले को भी कई मौकों पर बाहर किया गया है। अच्छे परिणामों के लिए एक्शन लेना जरुरी है।”

आपको बता दें कि इंग्लैंड (England) के खिलाफ एजबेस्टन टेस्ट की दोनों पारियों में विराट कोहली सिर्फ 20 और 11 रन बना सके। वहीं, 2 टी20 आई मुकाबलों में उनके बल्ले से सिर्फ 12 निकले। अब मंगलवार से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू होने वाली 3 वनडे मुकाबलों की सीरीज में कोहली को हर हाल में अच्छा प्रदर्शन दिखाना होगा। अन्यथा, टीम में उनकी जगह संकट में पड़ सकती है।

Q. विराट कोहली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में कितने शतक लगाए हैं?


A.
70

Leave a comment

Cancel reply