Ravi Shastri
अगर भारत को बड़ी टीम को हराना है तो उन्हें किस चीज़ में सुधार करना चाहिए? रवि शास्त्री ने बताया

मंगलवार को मोहाली में खेले गए तीन मुकाबलों की टी20 आई सीरीज के लिए पहले मैच में टीम इंडिया (India) को ऑस्ट्रेलिया (Australia) के खिलाफ 4 विकेट से हार का सामना करना पड़ा. इस मैच में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 6 विकेट के नुक्सान पर 208 रनों का स्कोर खड़ा किया था, जिसे ऑस्ट्रेलिया ने 4 गेंद शेष रहते हासिल कर लिया. इस दौरान भारतीय टीम ने 3 आसान कैच टपकाए, जिसमें एक कैच कैमरोन ग्रीन का था, जिन्होंने 30 गेंदों पर 61 रन की पारी खेली.

वहीं, दूसरी तरफ नीली जर्सी वाली टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री इस हार से नाखुश नज़र आए. उनका मानना है कि अगर भारत को किसी बड़ी टीम को हराना है तो उन्हें अपनी फील्डिंग में सुधार करना होगा.

60 साल के रवि शास्त्री ने कहा, “अगर आप पिछले कुछ सालों में भारतीय टीम को देखें, तो युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का मिश्रण रहा है. मुझे यहां युवा गायब लग रहे हैं और, इसलिए फील्डिंग कमजोर नजर आई. यदि आप पिछले पांच-छह वर्षों को फील्डिंग के हिसाब से देखें, तो मुझे लगता है कि यह टीम फील्डिंग के मामले में टॉप टीमों को टक्कर देते हुए नजर नहीं आती और यह बड़े टूर्नामेंट में नुकसान पहुंचाता है.”

उन्होंने आगे कहा, “यह ठीक उसी प्रकार है, जैसे आपने बल्लेबाजी में 15-20 रन अतिरिक्त बनाए हो. यदि आप फील्डिंग की बात करें तो कहां है टैलेंट? जडेजा नहीं हैं, कहां है एक्स फैक्टर.”

यह भी पढ़ें – T20 World Cup 2022: टीम इंडिया का हुआ चयन, जानिए क्या है टीम की मजबूती और कमजोरी

Q. भारतीय टीम का कप्तान कौन है?

A. रोहित शर्मा

Leave a comment

Cancel reply