विश्व की सबसे बड़ी रेस प्रतिस्पर्धा फॉर्मूला-1 में ऐसे कई चालक हुए हैं, जिन्होंने अपने करियर में दर्शकों की खूब वाह-वाही बटोरी है. उनमें माइकल शूमाकर और सेबेस्टियन वेटल आदि, जैसे चालक मौजूद हैं. आज हम ऐसे प्रतिभावान और कुशल फॉर्मूला-1 ड्राइवरों के बारे में जानेंगे जो भविष्य में एफ-1 चैंपियन बन सकते हैं.

वाल्टेरी बोटस: मर्सिडीज़ के ड्राइवर वाल्टेरी बोटस वर्तमान समय में बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं. कई रेस में उन्होंने दर्शकों की खूब वाह-वाही बटोरी है. वाल्टेरी में फॉर्मूला-1 चैंपियन बनने का माद्दा है. ख़बरों के अनुसार बोटस का मर्सिडीज़ के साथ 2019 के लिए करार नहीं हो पाया है, जिसके बाद वो मैकलारेन के साथ जुड़ने वाले हैं. बता दें कि बोटस काफी समय से मर्सिडीज़ के साथ बने हुए हैं.

एस्टेबन ओकन: 2016 में फॉर्मूला-1 में पदार्पण करने वाले एस्टेबन ओकन फ़्रांस के चालक हैं. उन्होंने बेल्जियम ग्रैंड प्रिक्स से अपने एफ-1 करियर की शुरुआत की थी. अब तक उनका प्रदर्शन काबिल ए तारीफ रहा है. 2017 में एस्टेबन ने ब्राज़ीलियन ग्रैंड प्रिक्स में भी अपने लाजवाब प्रदर्शन के बलबूते सबका दिल जीता था. इसके बाद वो धीरे-धीरे सफलता के शिखर तक जा पहुंचे। अब उनमें फॉर्मूला- 1 चैंपियन बनने की क्षमता है.

चार्ल्स लेक्लर्क: 19 वर्षीय इस ड्राइवर में प्रतिभा और कुशलता साफ़ नज़र आती है, जिससे फॉर्मूला-1 में इनका भविष्य उज्जवल नज़र आता है. अपने एफ-1 करियर में अब तक 8 रेस में हिस्सा ले चुके चार्ल्स के मैकलेरान में शामिल होने की ख़बरें आ रही हैं. बताया यह भी जा रहा है कि चार्ल्स फेरारी के साथ जुड़ने वाले हैं. फिलहाल चार्ल्स किसी भी मोटरस्पोर्ट से जुड़ जाएं। उनमें विश्व चैम्पियन बनने का माद्दा है.

Leave a comment

Cancel reply