andy grant crictoday
अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट इतिहास का वह मैच, जिसमें एक टीम के लिए खेले थे 6 भाई

क्रिकेट के इतिहास में कई भाइयों की जोड़ियों ने धमाल मचाया है. भारत की बात करें तो यहां पठान बंधू, पांड्या ब्रदर्स की जोड़ी सबसे मशहूर रहीं, लेकिन आज हम आपको उस क्रिकेट मुकाबले के बारे में बताने वाले हैं, जब एक टीम की अंतिम एकादश में 6 खिलाड़ी भाई-भाई थे यानी इस मैच में एक टीम की तरफ से तीन भाइयों की जोड़ियां खेलीं थीं. यह टेस्ट मैच 1997 में हरारे में ज़िम्बाब्वे और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया था, जिसमें 3 भाइयों की जोड़ियां मेजबान टीम का प्रतिनिधित्व कर रही थीं.

इस मैच में, जो 6 भाई खेले थे उनके नाम हैं- ब्रॉयन स्ट्रैंग-पॉल स्ट्रैंग, एंडी फ्लॉवर-ग्रांट फ्लॉवर और गेविन रेनी-जॉन रेनी.

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ था, जब एक टीम में तीन भाइयों की जोड़ियां एक साथ खेलीं. इस मैच में ज़िम्बाबवे ने पहले बल्लेबाजी करते हुए अपनी पहली पारी में 289 रन बनाए थे, जिसके बाद कीवी टीम 207 रनों के स्कोर पर ढेर हो गई थी. मेजबानों ने अपनी दूसरी इनिंग में 311 रनों का स्कोर खड़ा किया. वहीं, मेहमान टीम अपनी आखिरी पारी में 304 रन बना पाई ओर यह मैच ड्रॉ के रूप में समाप्त हुआ.

इस मैच का स्कोरकार्ड देखने के लिए यहां क्लिक कीजिए.

Leave a comment

Cancel reply