rashid khan south african cricketers
दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों को राशिद खान से सीखना चाहिए अपने देश के लिए 'जान देना'!

अफगानिस्तान (Afghanistan) के दिग्गज लेग स्पिनर राशिद खान (Rashid Khan) ने साफ कहा है कि जब देश और लीग क्रिकेट के बीच खेलने को लेकर बात आती है तो वे सबसे पहले अपने देश के बारे में खेलने के लिए सोचेंगे. उन्होंने कहा है कि अफगानिस्तान ने उन्हें प्रसिद्धि और भाग्य दिया है और इसलिए, जब देश के लिए खेलने की बात आती है तो वह समझौता नहीं करेंगे.

दाएं हाथ के फिरकी गेंदबाज ने न्यूज़ 18 से बातचीत करते हुए कहा, “मैंने अपनी राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व करने के लिए विभिन्न लीगों में हिस्सा लिया, इसलिए मेरे लिए हमेशा देश के लिए खेलना सबसे पहले आता है. आप अपने देश को कभी नहीं भूल सकते, जब देश और लीग क्रिकेट के बीच खेलने को लेकर बात आती है तो मैं सबसे पहले अपने देश के बारे खेलने के लिए सोचता हूं.”

मालूम हो कि इससे पहले दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों ने अपने देश पर इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में खेलने को प्राथमिकता दी थी. साउथ अफ्रीकी खिलाड़ियों को आईपीएल और बांग्लादेश टेस्ट सीरीज में से एक को चुनने का विकल्प था, जहां खिलाड़ियों ने आईपीएल में खेलने का निर्णय लिया. हालांकि, इससे पहले टेस्ट कप्तान डीन एल्गर ने अपने साथी खिलाड़ियों से देश के लिए खेलने की अपील की थी और इसे वफादारी का टेस्ट बताया था.

यह भी पढ़ें | कोच-कप्तान के मनाने पर भी नहीं माने दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी, टेस्ट सीरीज छोड़कर IPL 2022 में खेलेंगे

वहीं, दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों को राशिद खान से सीख लेनी चाहिए कि पहले अपने देश को प्राथमिकता दें. यह भी सच है कि इंडियन प्रीमियर लीग दुनिया की सबसे बड़ी, सबसे पुरानी, सबसे धनवान घरेलू टी20 लीग है. दुनिया का हर खिलाड़ी इसमें खेलने की ख्वाहिश रखता है. अब ऐसे में यह तो दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ियों, उनके क्रिकेट बोर्ड और बीसीसीआई को ठीक पता है कि उनका यह डिसीजन कितना सही है. क्रिकटुडे इस बात की कोई आलोचना नहीं करता है, क्योंकि हर किसी बोर्ड और खिलाड़ी को अपने-अपने डिसीजन लेने का राइट है.

Leave a comment

Cancel reply