Ravi Shastri - Virat Kohli
कोहली के कप्तानी छोड़ने पर भावुक हुए शास्त्री, सुनाया 'हाल ए दिल'

भारतीय क्रिकेट टीम (Team India) के पूर्व मुख्य कोच (Head Coach) रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने टेस्ट कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की जमकर तारीफ की है. उन्होंने बताया है कि कोहली कैसे खिलाड़ी हैं और टीम इंडिया को टेस्ट में सर्वश्रेष्ठ बनाने में उन्होंने कौन सी रणनीति का इस्तेमाल किया है.

रवि शास्त्री ने स्टार स्पोर्ट्स (Star Sports) से बातचीत करते हुए कहा, “सोच के मामले में हम दोनों ही काफी आक्रामक हैं. हम सिर्फ जीत के लिए खेलते हैं. हमें बहुत जल्‍द एहसास हो गया था कि आपको मैच जीतने के लिए 20 विकेट लेने की जरूरत है तो आपने, ऐसे खिलाड़‍ियों की खोज करना शुरू की, जो आपको ऐसा करने में मदद करें.”

उन्होंने आगे कहा, “इसमें समय लग सकता था. आक्रामक और निडर क्रिकेट खेलने का फैसला करने का मतलब आप कभी मैच हार भी सकते हैं. मगर एक बार आपने सीमा पार की तो यह आदत बन जाती है. मुझे इसकी जल्‍द ही पहचान हो गई थी.”

59 साल के पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने कहा, “इंग्‍लैंड (2014) दौरे के दौरान मैं इंग्‍लैंड में काफी शो करता था. मैं बॉब विलिस और चार्ल्‍स कोलविले के साथ द वर्डिक्‍ट शो करता था, तो मुझे कोहली को करीब से देखने का मौका मिला.”

गौरतलब है कि आईसीसी टी20 विश्व कप 2021 के बाद टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री का कार्यकाल पूरा हो गया था. सच तो यह है कि टीम इंडिया ने इनके मार्गदर्शन में एक भी बार आईसीसी का मेजर टूर्नामेंट नहीं जीता, लेकिन द्विपक्षीय सीरीज में ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में, इंग्लैंड को इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज हराना बहुत बड़ी उपलब्धि रही.

शास्त्री को 11 जुलाई 2017 को टीम इंडिया का मुख्य कोच नियुक्त किया गया था. कोहली और शास्त्री की जोड़ी ने द्विपक्षीय सीरीज में तो भारतीय टीम को कई ऐतिहासिक जीत दिलाई, लेकिन आईसीसी के मेजर टूर्नामेंट्स में टीम का प्रदर्शन निराशाजनक रहा.

Leave a comment

Cancel reply