shardul

टीम इंडिया (India) के पूर्व सलामी बल्लेबाज और मौजूदा समय में कमेंटेटर की भूमिका निभा रहे आकाश चोपड़ा (Akash Chopra) ने स्टार पेसर शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) को लेकर बड़ी टिप्पणी व्यक्त की है. आकाश ने लॉर्ड शार्दुल के नाम से मशहूर 30 साल के इस भारतीय खिलाड़ी को लेकर कहा है कि लॉर्ड है तो मुमकिन है. उनका मानना है कि शार्दुल में हर मैच की हर पारी में विकेट झटकने की काबिलियत है.

44 साल के आकाश चोपड़ा ने यू-ट्यूब चैनल से कहा, “लॉर्ड है तो मुमकिन है. वह अपना छठा टेस्ट मैच खेल रहे हैं और उन्होंने एक पारी में 7 विकेट चटकाए. वे हर मैच की हर पारी में विकेट लेते हैं. मोहम्मद सिराज घायल हो गए थे, इसलिए उन्हें लाया गया. शमी और बुमराह ने बल्लेबाजों पर दबाव बनाया, लेकिन विकेट नहीं ले पाए. फिर शार्दुल ने यह काम किया.”

उन्होंने आगे कहा, “पालघर (एक्सप्रेस) ने इस मैच की एक पारी में सात बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया. उन्होंने क्रीज का अच्छी तरह से इस्तेमाल किया. आपको पहले 35 ओवर में गेंदबाजी करने को नहीं मिलती है. इसका मतलब यह है कि कूकाबुरा गेंद पुरानी हो गई है, तो बल्लेबाजी आसान हो जाती है. दिन का दूसरा सत्र बल्लेबाजी के लिए बेहद अनुकूल रहा लेकिन उन्होंने इस दौरान विकेट लिए- कभी आउटस्विंगर के साथ, कभी इनस्विंगर या बाउंसर के साथ.”

गौरतलब है कि महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान माना जाता है. वहीं, शार्दुल को लॉर्ड कहा जाता है. ऐसे में आकाश ने क्रिकेट के ‘नए भगवान’ की जमकर तारीफ की है.

‘लॉर्ड शार्दुल’ (Lord Shardul) के नाम से मशहूर इस दाएं हाथ के पेसर ने मंगलवार को दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध तीन मुकाबलों की टेस्ट सीरीज के दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन शानदार गेंदबाजी करते हुए एक पारी में 61 रन देकर 7 विकेट हासिल किए. 

Leave a comment

Cancel reply