ravi shastri
रवि शास्त्री को 11 जुलाई 2017 को टीम इंडिया का मुख्य कोच नियुक्त किया गया था.

भारतीय टीम के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने कोहली गांगुली के कप्तानी विवाद पर प्रतिक्रिया व्यक्त की है. उन्होंने कहा है कि इस मामले में भारतीय टेस्ट कप्तान कोहली ने अपना पक्ष रख दिया है और अब बीसीसीआई अध्यक्ष गांगुली को भी अपनी बात रखनी चाहिए.

रवि शास्त्री ने इंडियन एक्सप्रेस के साथ बातचीत में कहा, “मैं इस व्यवस्था का वर्षों से हिस्सा रहा हूं. इस टीम के साथ पिछले सात सालों से था. पूरे मामले को अच्छी बातचीत के ज़रिए ठीक से हैंडल किया जा सकता था. ऐसा नहीं किया गया, इसलिए चीज़ें सार्वजनिक हुईं.”

उन्होंने आगे कहा, “इस मामले में विराट ने अपना पक्ष रख दिया है और बोर्ड के अध्यक्ष को अपनी बात रखनी चाहिए या उन्हें पूरे मामले में स्पष्टीकरण देना चाहिए कि असल में हुआ क्या था.”

याद हो कि बीसीसीआई ने कुछ दिनों पहले ही कोहली को वनडे प्रारूप की कप्तानी से हटाकर रोहित शर्मा को कप्तान बना दिया था. इसके बाद कोहली ने दक्षिण अफ्रीका के दौरे से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सनसनीखेज खुलासा किया था. विराट ने गांगुली को लेकर कहा था कि उन्होंने टी20 प्रारूप की कप्तानी नहीं छोड़ने के बारे में मुझसे बात नहीं की. इससे पहले गांगुली ने कहा था कि उन्होंने कोहली से टी20 टीम की कप्तानी जारी रखने की बात कही थी.

जब कोहली से यह पूछा गया कि क्या गांगुली ने आपसे इस बारे में बात की थी तो उन्होंने इस बात का जवाब देते हुए कहा, “मुझे टी20 आई की कप्तानी छोड़ने के लिए नहीं कहा गया.”

Leave a comment

Cancel reply