Ruturaj Gaikwad
उन्होंने 16 मुकाबलों में 45.35 के औसत और 136.26 के स्ट्राइक रेट से 635 रन बनाए।

आईपीएल 2021 के ऑरेंज कैप विजेता रुतुराज गायकवाड़ ने कहा है कि उनके बल्लेबाजी के क्रम के बावजूद उनकी मानसिकता हमेशा फिनिशर की रही है। चेन्नई सुपर किंग्स के स्टार सलामी बल्लेबाज ने इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन में फाफ डु प्लेसिस के साथ ओपन किया था और दोनों खिलाड़ियों ने टीम को अधिकतर मुकाबलों में बेहतरीन शुरुआत दिलाई थी।

हाल ही में रुतुराज गायकवाड़ ने बताया है कि कैसे उन्होंने मध्य क्रम से पारी की शुरुआत करने के लिए खुद को ढाला। टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि उन्हें केवल कुछ समायोजन की आवश्यकता रही, क्योंकि उनकी मानसिकता स्थिर है। इसके अलावा रुतुराज ने सीएसके के कप्तान एमएस धोनी द्वारा मिली खास सलाह का भी खुलासा किया।

24 साल के युवा क्रिकेटर ने कहा, “मैंने हमेशा खेल खत्म करने पर ध्यान केंद्रित किया है। मुझे उस मानसिकता की आदत है, लेकिन बॉटम लाइन यह है कि मैं हमेशा चीजों को सरल रखने की कोशिश करता हूं। मैंने स्थिति के अनुसार अपनी बल्लेबाजी में कुछ छोटे समायोजन किए और मेरा प्रदर्शन अच्छा सामने आया।”

दाएं हाथ के बल्लेबाज ने एमएस धोनी को लेकर कहा, “वास्तव में एक या दो गेम थी, जब एमएस धोनी मेरे पास आए और मुझसे कहा कि जब खेल पर मेरा नियंत्रण हो तो मुझे इसे खत्म करने की कोशिश करनी चाहिए। ऐसा नहीं है कि एक सलामी बल्लेबाज को केवल 10-12 ओवर खेलना चाहिए। मैंने उनसे बात की कि मेरी मानसिकता हमेशा से खेल खत्म करने की रही है।”

गौरतलब है कि रुतुराज गायकवाड़ ने आईपीएल 2021 में जबरदस्त प्रदर्शन किया और टीम को चौथा खिताब जिताने में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने 16 मुकाबलों में 45.35 के औसत और 136.26 के स्ट्राइक रेट से 635 रन बनाए।

Leave a comment

Cancel reply