"गेंदबाजों के पास कम दिमाग होता है?", बुमराह के कप्तान बनते ही क्या बोले आकाश चोपड़ा?

एजबेस्टन (Edgbaston) के मैदान पर भारतीय टीम (Team India) एक जुलाई से इंग्लिश टीम के खिलाफ टेस्ट मैच खेलने उतरेगी। मगर टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) कोरोना पॉजिटिव हैं और अगर मैच शुरू होने से पहले वो ठीक नहीं होते हैं तो दिग्गज तेज गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) भारतीय खेमे की कमान संभालेंगे। गेंदबाज़ को कप्तान बनाए जाने की खबर के बाद लोगों की तरफ से तरह-तरह के रिएक्शन आ रहे हैं। इसी क्रम में भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने भी अपनी राय दी है।

अपने यूट्यूब चैनल पर 44 साल के पूर्व बल्लेबाज़ ने कहा, “जसप्रीत बुमराह एजबेस्टन टेस्ट में भारतीय टीम की कमान संभालेंगे। यह काफी बड़ी और सम्मान की बात है। काफी सारे लोग मुझसे पूछते हैं कि क्यों एक गेंदबाज़ कप्तान नहीं बन सकता? क्या गेंदबाज़ों के पास प्लान बनाने के लिए दिमाग कम होता है?”

आकाश चोपड़ा ने इसे पूरी तरह से गलत बताया। उन्होंने कहा, “मैं इसे पूरी तरह से ख़ारिज करता हूं। उनके दिमाग बल्लेबाज़ों से ज्यादा चलते हैं क्योंकि उनके पास अलग-अलग बल्लेबाज़ों को पढ़ने की क्षमता होती है। इसके अलावा वर्कलोड मैनेजमेंट और किस लाइन पर गेंदबाज़ी करनी है? यह काफी समझदारी वाला काम है। तो ऐसा बिलकुल नहीं है कि गेंदबाज़ अच्छे कप्तान नहीं बन सकते।”

इसके अलावा आकाश ने मुख्य कारण भी बताया कि क्यों गेंदबाज़ कप्तान नहीं बन पाते। उन्होंने कहा, “वैसे तो इसके पीछे कई कारण है, लेकिन सबसे बड़ी वजह यह है कि कप्तान बनने के बाद गेंदबाज़ अपने ओवर मैनेज नहीं कर पाता। वो कभी जरुरत से ज्यादा गेंदबाज़ी कर जाते हैं और कभी जरुरत से कम। ये बहुत बड़ी समस्या है।”

आपको बता दें कि अगर जसप्रीत बुमराह एजबेस्टन टेस्ट में टीम इंडिया की कप्तानी करते हैं तो वो कपिल देव के बाद भारतीय टेस्ट टीम की कमान संभालने वाले पहले गेंदबाज़ बन जाएंगे।

Q. टेस्ट क्रिकेट में जसप्रीत बुमराह ने कितने विकेट झटके हैं?
A. 123

Leave a comment

Cancel reply