harbhajan symonds
मंकी गेट - एंड्रयू साइमंड्स के क्रिकेट करियर का सबसे खराब विवाद, जिससे सबकुछ दहल गया

हाल ही में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट (International Cricket) से संन्यास का ऐलान करने वाले भारतीय टीम (Team India) के पूर्व दिग्गज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह (Hrbhajan Singh) ने ‘मंकी गेट’ (Monkey Gate) विवाद को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. उन्होंने कहा है कि यह कुछ ऐसा था, जिसकी आवशयकता नहीं थी. उन्होंने यह भी कहा कि उनकी आने वाली आत्मकथा (Autobiography) में लोगों को इसके बारे में पता चल जाएगा कि वे मानसिक रूप से कैसा महसूस कर रहे थे.

हरभजन सिंह ने समाचार एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए कहा, “यह कुछ ऐसा था, जिसकी आवश्यकता नहीं थी. उस दिन सिडनी में, जो कुछ भी हुआ वह नहीं होना चाहिए था और यह भी कि उसके कारण क्या हुआ. यह वास्तव में अनावश्यक था, लेकिन यह भूल जाना चाहिए कि किसने क्या कहा. आप और मैं दोनों जानते हैं कि सच्चाई के दो पहलू होते हैं.”

उन्होंने आगे कहा, “पूरे प्रकरण में किसी ने भी सच्चाई के मेरे पक्ष की परवाह नहीं की. उन कुछ हफ्तों में मैं क्या कर रहा था और मैं मानसिक रूप से कैसे परेशान था, इस पर किसी ने ध्यान नहीं दिया. मैंने कभी भी कहानी के बारे में अपने पक्ष को विस्तार से नहीं बताया, लेकिन लोगों को इसके बारे में मेरी आने वाली आत्मकथा में पता चलेगा, जो मेरे साथ हुआ वह किसी के साथ नहीं होना चाहिए था.”

जानकारी हो कि साल 2008 में सिडनी टेस्ट मैच के दौरान हरभजन सिंह और पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ऑलराउंडर एंड्रयू साइमंड्स के बीच विवाद हो गया था, जिसके बाद उसे मंकीगेट नाम दिया गया. उस समय के ऑ

Leave a comment

Cancel reply