bcci crictoday
भारतीय क्रिकेट सेलेक्टर्स के पद के लिए आवेदन करने वाले मुख्य उम्मीदवारों के नाम आए सामने

भारत (India) और पाकिस्तान (Pakistan) के बीच खराब राजनैतिक संबंधों के चलते द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेली जाती है। दोनों देशों ने एक दूसरे के खिलाफ आखिरी बार 2013 में सीमित ओवरों की श्रृंखला खेली थी, जबकि टेस्ट फॉर्मेट में अंतिम बार दोनों का आमना सामना 2007 में हुआ था। ऐसे में इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने अपनी सरजमीं पर दोनों चिर प्रतिद्वंदियों के बीच टेस्ट सीरीज आयोजित करने की पेशकश की है। मगर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने ईसीबी का यह प्रस्ताव ठुकरा दिया है।

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के साथ बातचीत करते हुए कहा, “ईसीबी का इस विषय पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के साथ बातचीत करना थोड़ा अजीब है, क्योंकि पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज का फैसला सरकार करेगी।”

उन्होंने आगे कहा, “अभी वर्तमान स्थिति ही बरक़रार रहेगी और हम पाकिस्तान के खिलाफ सिर्फ मल्टी नेशन टूर्नामेंट्स में ही खेलेंगे।”

इससे पहले टेलीग्राफ ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया था कि ईसीबी के डिप्टी चेयरमैन मार्टिन डारलो ने पीसीबी को भविष्य में भारत और पाकिस्तान के बीच तीन मुकाबलों की टेस्ट सीरीज आयोजित करने के लिए के लिए इंग्लैंड के मैदानों का इस्तेमाल करने का प्रस्ताव दिया था।

दरअसल, इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड भारत और पाकिस्तान के बीच श्रृंखला आयोजित करवा कर मोटी कमाई करना चाहता है। इन मैचों को देखने बड़ी संख्या में दर्शक पहुंचेंगे, क्योंकि यहां दक्षिण एशियाई देशों की काफी जनसंख्या है। इसके अलावा टेलीविजन पर भी इन्हें काफी लोग देखेंगे।

Q. बीसीसीआई का वर्तमान अध्यक्ष कौन है?

A. सौरव गांगुली

Leave a comment

Cancel reply