aus vs eng
T20 World Cup 2022: इंग्लैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया मुकाबले की टॉप-5 प्लेयर्स बैटल

भारत और पाकिस्तान की तरह ही क्रिकेट जगत में और भी चिर-प्रतिद्वंद्वी टीमें हैं, जो एक-दूसरे को मुकाबले में हराने के लिए आतुर रहती हैं। इनमें से एक हैं इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया। इनके बीच चाहे ऐशज सीरीज हो या फिर कोई और मैच, ये दोनों टीमें जीतने के लिए अपनी जी-जान लगा देती हैं। इनके बीच टी-20 वर्ल्डकप के सुपर-12 का अहम मुकाबला आज मेलबर्न में होने जा रहा है। यह ग्रुप-1 का मैच है, जो टी-20 विश्वकप का 26वां मुकाबला होगा। वहीं, सुपर-12 का यह पहला मैच होने वाला है, जिसमें हारने वाली टीम के अंतिम चार की दौड़ से बाहर होने का खतरा बढ़ जाएगा।

दरअसल, कंगारुओं की टीम पहला मैच न्यूजीलैंड के खिलाफ बड़े अंतर से हार गई थी। इसमें ऑस्ट्रेलिया को 201 रन बनाने थे लेकिन टीम 101 रनों पर ही सिमट गई थी। दूसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को 7 विकेट से हराकर 21 गेंदें शेष रहते हुए मैच जीत लिया था। इसके साथ ग्रुप-1 की तालिका में टीम 5वें स्थान पर आ गई। इसी वजह से यह मैच ऑस्ट्रेलिया के लिए किसी भी कीमत पर जीतना जरूरी हो गया है। उधर, इंग्लैंड की बात करें तो टीम ने पहला मैच अफगानिस्तान के साथ खेला था, जिसमें उसने 5 विकेट से बड़ी जीत हासिल की थी। दूसरे मैच में बारिश की वजह से इंग्लैंड को आयरलैंड से 5 रनों से हारना पड़ा।

बारिश प्रभावित मैच में डकवर्थ लुइस नियम के तहत इंग्लैंड को हार मिली, जिससे टीम की स्थिति बिगड़ गई और टीम में भी हताशा की लहर दौड़ गई। ऐसे में सेमीफाइनल की दौड़ में खुद को बनाए रखने के लिए दोनों टीमें कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती हैं।

आरोन फिंच वर्सेज क्रिस जॉर्डन

कंगारू टीम के कप्तान आरोन फिंच राइट हैंड के सलामी बल्लेबाज हैं। वहीं, क्रिस जॉर्डन राइट आर्म फास्ट मीडियम बॉलर हैं। अपनी लंबी हाइट 6 फीट 2 इंच की वजह से यह गेंदों को अच्छा स्विंग करवाने की काबिलियत रखते हैं। दोनों के बीच की जंग के आंकड़ों पर गौर करें तो आरोन फिंच ने जॉर्डन के खिलाफ 53 गेंदों पर 63 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 118.9 रहा है। यानी जब-जब क्रिस जॉर्डन उनके सामने आते हैं, तब-तब फिंच उनकी खूब धुनाई करते हैं। भले ही फिंच जॉर्डन की धुलाई जरूर कर लें लेकिन उनका विकेट भी वही सबसे ज्यादा बाद झटक चुके हैं। यह तेज गेंदबाज 4 बार कंगारू कप्तान को आउट कर चुका है। इस वजह से दोनों खिलाड़ियों के बीच गेंद और बल्ले की जंग जारी रहती है।

आदिल रशीद वर्सेज मार्कस स्टोइनिस

इंग्लैंड के लेगब्रेक आदिल रशीद की फिरकी गेंदबाजी के सामने बड़े-बड़े बल्लेबाज फंस जाते हैं। अपनी फिरकी का कमाल वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी दिखाने में कई बार सफल रहे हैं। वह बेहद किफायती स्पिन गेंदबाज हैं। मार्कस स्टोइनिस और उनके बीच के आंकड़ों पर गौर करें तो आदिल उन्हें 3 बार अपनी स्पिन गेंदबाजी के जाल में फंसाकर पवेलियन भेज चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वह 11 मैच की 10 पारियां खेल चुके हैं, जिसमें कुल 38 ओवर में उन्होंने 296 रन देकर 12 विकेट झटके हैं। इसमें 21 रन देकर 3 विकेट झटकना उनका सर्वश्रेष्ठ है। वहीं, मार्कस स्टोइनिस एक हरफनमौला खिलाड़ी हैं। वह राइट हैंड बैट्समैन और राइट आर्म मीडियम बॉलर हैं। उन्होंने आदिल रशीद के खिलाफ 27 गेंदों पर 85.2 के स्ट्राइक रेट से 23 रन बनाए हैं। आंकड़े देखकर लगता है कि आदिल के सामने यह बल्लेबाज उतना खुलकर बड़े शॉट नहीं लगा पाता, जितना वो बाकी इंग्लैंड के गेंदबाजों के खिलाफ लगाता है। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 11 मैच की 10 पारियों में 35 के उच्च स्कोर के साथ 165 रन 138.65 के स्ट्राइक रेट से बनाए हैं।

जोस बटलर वर्सेज डेविड वॉर्नर

इंग्लैंड के कप्तान और विस्फोटक राइट हैंड बैट्समैन जोस बटलर और सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर के बीच बल्ले की जंग देखी जा सकती है। वैसे बटलर का इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 का ऑल ओवर रिकॉर्ड देखें तो उन्होंने 15 मैच की 15 इनिंग्स में 3 बार नाबाद रहकर 542 रन बनाए हैं। इसमें नाबाद 77 उनका सर्वोच्च स्कोर है और 150.97 के औसत से उन्होंने रन बनाए हैं। वहीं, डेविड वॉर्नर ने 14 मैच की 14 पारियों में 295 रन 73 के उच्च स्कोर के साथ बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 118 का रहा है। वैसे देखा जाए तो ये दोनों सलामी बल्लेबाज अपनी टीम को जीत दिलाने के लिए अच्छा स्टार्ट देना चाहेंगे। अब तो आज होने वाला मैच ही बताएगा कि बल्ले से कौन कमाल दिखा पाता है।

ग्लेन मैक्सवेल वर्सेज बेन स्टोक्स

ये दोनों ही हरफनमौला खिलाड़ी हैं, जो धमाकेदार बल्लेबाजी के अलावा गेंदबाजी में भी कमाल दिखा सकते हैं। ये दोनों ही खिलाड़ी दोनों टीमों की मजबूत कड़ी हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 के 5 मैचों की 5 पारियों में बेन ने 2 बार नाबाद रहते हुए कुल 39 रन ही बनाए हैं। उनका स्ट्राइक रेट 111.42 का रहा है। गेंदबाजी में देखें तो उन्होंने कुल 11 ओवर फेंके हैं और 93 रन देकर कुल 2 विकेट ही झटके हैं। हालांकि, वो हर बार बहुत महंगे गेंदबाज साबित हुए। कंगारू टीम के ग्लेन मैक्सवेल 15 मैच की 15 पारियों में 103 रनों के नाबाद शतक के साथ कुल 315 रन बना चुके हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 138.76 का रहा है। गेंदबाजी में उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 22 ओवर में 172 रन लुटाए हैं और 8 विकेट झटके हैं, जिसमें 10 रन देकर 3 विकेट लेना उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।

मिशेल स्टार्क वर्सेज मार्क वुड

ये दोनों ही तेज गेंदबाज हैं। दोनों की भूमिका इस महत्वपूर्ण मैच में अहम रहने वाली है। अगर इन दोनों गेंदबाजों ने शुरुआती बल्लेबाजों को जल्दी पवेलियन भेज दिया तो कोई भी टीम मैच में अपनी पकड़ मजबूत कर सकती है। इंग्लैंड के मार्क वुड के कंगारुओं के खिलाफ टी-20 करियर पर नजर डालें तो उन्होंने 6 मैचों की 5 पारियों में 19.3 ओवर्स में 154 रन देकर 7 विकेट झटके हैं। उनकी बेस्ट बॉलिंग 3/34 रही है। मिशेल स्टार्क पर गौर फरमाएं तो उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 9 मैचों की 9 पारियों में 224 रन देकर 6 विकेट झटके हैं, जिसमें 1/8 उनकी बेस्ट बॉलिंग रही है। इन दोनों ही तेज गेंदबाजों के कंधों पर जीत में अहम भूमिका निभाने की बड़ी जिम्मेदारी है। देखते हैं कि दोनों क्या कमाल दिखा पाते हैं।

यह भी पढ़ें – T20 World Cup 2022 में अब तक सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले प्लेयर्स

Q. इस बार का टी20 विश्व कप कहां खेला जा रहा है?

A. ऑस्ट्रेलिया

Leave a comment

Cancel reply