babar de kock
T20 World Cup 2022: पाकिस्तान बनाम दक्षिण अफ्रीका मुकाबले की प्लेयर्स बैटल

पाकिस्तान बनाम दक्षिण अफ्रीका मैच उस दहलीज पर खड़ा है, जहां से एक टीम के लिए सेमीफाइनल में पहुंचने का रास्ता साफ हो जाएगा तो दूसरी टीम के लिए अंतिम चार के दरवाजे बंद हो जाएंगे। दक्षिण अफ्रीका ने जिस तरह से टूर्नामेंट में बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया है, उससे उसके हौसले बुलंद है। वहीं पाकिस्तान मानसिक रूप से दबाव में होगा, जिसका अफ्रीका फायदा उठाने की कोशिश में रहेगी। अगर टूर्नामेंट में पाकिस्तान को अपना वजूद बनाए रखना है तो हर हाल में यह मैच जीतना होगा। अब देखते हैं कि गुरुवार को होने वाले इस अहम मैच में दोनों टीमों के खिलाड़ियों के बीच किस तरह की जंग देखने को मिलती है।

कगिसो रबाडा बनाम मोहम्मद रिजवान

दक्षिण अफ्रीका के सबसे भरोसेमंद और तेज-तर्रार गेंदबाज कगिसो रबाडा का जादू उस तरह नहीं चला, जिसके लिए वे जाने जाते हैं। उन्होंने तीन मैच खेले और उनके खाते में महज 1 विकेट ही आया। दो मैच में उन्होंने एक भी विकेट नहीं लिया। इस अनुभवी गेंदबाज ने अपने टी-20 करियर में 52 मैचों में 55 विकेट झटके हैं। उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ गेंदबाजी का अनुभव नहीं है लेकिन उनके निशाने पर विरोधी टीम के स्टार बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान ही होंगे। रिजवान भी अब तक टूर्नामेंट में सलामी बल्लेबाज के तौर पर कुछ खास नहीं कर पाए हैं। भारत व जिम्बाब्वे के खिलाफ वह क्रमशः 4 व 14 रन ही बना पाए। सिर्फ कमजोर नीदरलैंड्स के खिलाफ उन्होंने 49 रन ठोके। इस अहम मुकाबले में रबाडा सलामी बल्लेबाज को जल्दी पवेलियन भेजना चाहेंगे और रिजवान रबाडा की धुनाई करके टीम को बड़े स्कोर तक ले जाना चाहेंगे।

शान मसूद बनाम लुंगी एंगीडी

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत की कमर तोड़ने में लुंगी एंगीडी का बड़ा हाथ रहा। उन्होंने राहुल, रोहित, विराट और हार्दिक जैसे महत्वपूर्ण विकेट झटककर भारत की हार पहले से ही तय कर दी थी। टूर्नामेंट पर नजर डालें तो वह 2 मैच में 6 विकेट झटक चुके हैं। उनके टी-20 करियर पर नजर डालें तो उन्होंने 34 मैच में 57 विकेट झटके हैं, जो बेहतरीन रिकॉर्ड है। उनकी बेस्ट बॉलिंग 5/39 रही है। उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ अब तक खेलने का मौका नहीं मिला है लेकिन उनके निशाने पर मध्यक्रम के भरोसेमंद बल्लेबाज शान मसूह होंगे, जो पाकिस्तान के लगभग हर मैच में रन बनाकर आए हैं। शान सिर्फ नीदरलैंड्स के खिलाफ 12 रन बना पाए थे। वहीं, जिम्बाब्वे के खिलाफ 44 और भारत के खिलाफ 52 रन बनाकर उच्च स्कोर किया था। शान ने अब तक कुल 15 मैच की 13 पारियां खेली हैं, जिसमें 29.81 के औसत से 328 रन बनाए हैं। वहीं, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उन्हें टी-20 का अनुभव नहीं है।

डेविड मिलर बनाम मोहम्मद वसीम

भारत के खिलाफ जीत में चमकने वाले और दक्षिण अफ्रीका को मुसीबतों से बाहर निकालने वाले भरोसेमंद मध्यक्रम के बल्लेबाज डेविड मिलर से दक्षिण अफ्रीका को इस मैच में भी काफी उम्मीदें हैं। वह फॉर्म में वापस आ गए हैं। उन्हें बांग्लादेश और जिम्बाब्वे के खिलाफ बल्लेबाजी करने का उतना मौका नहीं मिला लेकिन भारत के खिलाफ उन्होंने अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज करवा दी। बाएं हाथ का यह ऑलराउंडर 110 मैच खेल चुका है, जिसमें उन्होंने 34.91 के औसत से 2130 रन बनाए हैं। इसमें नाबाद 106 के उच्च स्कोर के साथ दो शतक व 6 अर्धशतक शामिल हैं। पाकिस्तान के खिलाफ मिलर ने 16 मैच खेले हैं, जिसमें 45.42 के औसत से उनकी बल्लेबाजी ठीक-ठाक रही है। उन्होंने पाकिस्तान के विरुद्ध 2 शतक लगाए हैं, जिसमें 85 बेस्ट स्कोर है। ऐसे में इस मजबूत बल्लेबाज की गिल्लियां बिखेरने की जिम्मेदारी पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद वसीम के कंधों पर होगी। उन्हें भारत के खिलाफ टीम में शामिल नहीं किया गया था लेकिन बाकी दो मैचों में उन्होंने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 6 विकेट लिए। भारत के खिलाफ मिलर की पारी के बाद वसीम की नजरें सिर्फ मिलर को वापस भेजने पर लगी होंगी। मो. वसीम को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ गेंदबाजी का अनुभव नहीं है लेकिन उन्होंने अपने टी-20 करियर के 22 मैचों में 32 विकेट झटके हैं।

शादाब खान बनाम रिलो रोसो

पाकिस्तान के हरफनमौला खिलाड़ी शादाब खान बल्ले और गेंद दोनों से करिश्मा दिखाने की काबिलियत रखते हैं। उन्होंने टूर्नामेंट के तीन मैचों में नाबाद 4, 17, 5 रन बनाए हैं। वह बल्लेबाजी में नहीं चले तो गेंदबाजी में उन्होंने तीन मैचों में 6 विकेट झटक लिए। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उनके आंकड़े देखें तो उन्होंने 3 मैचों में 3 बार नाबाद रहते हुए 29 रन बनाए हैं। साथ ही 2 विकेट भी लिए हैं। उधर, दक्षिण अफ्रीका के मध्यक्रम के बल्लेबाज रिलो रोसो भले भारत के खिलाफ शून्य पर आउट हुए हों लेकिन उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ धुआंधार 109 रनों की पारी खेली थी। वैसे, रिलो रोसो ने 36 मैचों में 1239 रन बनाए, जिसमें 132 उनका उच्च स्कोर है। अब देखते हैं कि गुरुवार को होने वाले मैच में शादाब चमकते हैं या रोसो।

Leave a comment

Cancel reply