ishant gayle
IPL 2022 मेगा ऑक्शन- 5 बड़े खिलाड़ी, जिनको शायद ही मिलेगा कोई खरीददार

क्रिकेट की दुनिया में सबसे ज्यादा तड़का लगाने वाला टूर्नामेंट इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) अपने अगले सीजन के लिए तैयार होने जा रहा है। आईपीएल के अगले साल होने वाले सीजन का हर किसी को बेसब्री से इंतजार है, क्योंकि इस बार के सीजन में काफी बदलाव देखने को मिलेंगे, जहां एक तरफ तो टीमों की संख्या बढ़कर 8 से 10 होने जा रही है तो वहीं, दूसरी तरफ खिलाड़ियों में भी भारी फेरबदल होने वाला है।

आईपीएल के 15वें सीजन की शुरुआत से पहले एक मेगा ऑक्शन (Mega Auction) होने जा रहा है, जहां देश-दुनिया के सैकड़ो खिलाड़ी नीलामी के बाजार में उतरेंगे। ऐसे कई खिलाड़ी हैं, जिन पर सभी फ्रेंचाइजी दांव लगाने के लिए रणनीति तैयार कर रही हैं। आईपीएल के मेगा ऑक्शन में उतरने वाले खिलाड़ियों मे कुछ ऐसे खिलाड़ी भी होंगे, जिनको खरीददार नहीं मिलेगी, लेकिन आपको यहां हम बताने जा रहे हैं, वो 5 बड़े नाम जिनको मेगा ऑक्शन में शायद ही मिलेगा कोई खरीददार.

ईशांत शर्मा

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा (Ishant Sharma) एक बेहतरीन तेज गेंदबाज के रूप में साबित करने में कामयाब रहे।

भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा (Ishant Sharma) एक बेहतरीन तेज गेंदबाज के रूप में साबित करने में कामयाब रहे। ईशांत शर्मा को भारतीय टेस्ट टीम के लिए पिछले कई सालों से स्ट्राइक गेंदबाज के रूप में देखा गया है। लेकिन ईशांत शर्मा को सीमित ओवर की क्रिकेट में काफी समय पहले से ही मौका मिलना बंद हो गया है। तो वहीं वो आईपीएल में भी कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाएं हैं। पिछले सीजन तो ईशांत शर्मा दिल्ली कैपिटल्स की टीम का हिस्सा रहे, लेकिन उन्हें ज्यादा खेलने का मौका नहीं मिल सका। उन्हें 3 मैच खेलने का मौका मिला था, जो केवल 1 विकेट ही ले सके। ऐसे में भले ही वो आईपीएल ऑक्शन में अपना नाम जरूर डालेंगे, लेकिन उन्हें शायद ही कोई खरीददार मिलेगा।

मुरली विजय

एक समय आईपीएल ने मुरली विजय के रूप में एक उभरता खिलाड़ी देखा।

एक समय आईपीएल ने मुरली विजय के रूप में एक उभरता खिलाड़ी देखा। मुरली विजय ने आईपीएल की शुरुआत में जबरदस्त जलवा बिखेरा, और इसे के बूते वो भारतीय टीम में भी खेलने में कामयाब रहे। मुरली विजय आईपीएल में 2009 में डेब्यू के बाद कुछ सीजन में शानदार प्रदर्शन किया, लेकिन आईपीएल में 2018, 2019 और 2020 के सीजन में मुरली विजय ने बहुत ही निराश किया है। 2021 के सीजन में उन्हें चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने कोई मौका ही नहीं दिया। जिसके बाद इस बार तो ऑक्शन में मुरली विजय का क्लास शायद ही लगने वाला है।

केदार जाधव

भारतीय क्रिकेट टीम में एक समय मध्यक्रम में लगातार मौका हासिल करने वाले केदार जाधव कुछ साल तक बेहतरीन दौर में दिखे।

भारतीय क्रिकेट टीम में एक समय मध्यक्रम में लगातार मौका हासिल करने वाले केदार जाधव कुछ साल तक बेहतरीन दौर में दिखे। उन्होंने भारतीय टीम में कुछ साल अच्छा प्रदर्शन किया। लेकिन पिछले कुछ साल से केदार का नाम भारतीय टीम से गायब हो गया है। तो वहीं इसका एक बड़ा असर आईपीएल पर भी पड़ा। केदार को आईपीएल में भी धीरे-धीरे खत्म होते देखा जा रहा है। पिछले साल केदार जाधव सनराईजर्स हैदराबाद की टीम का हिस्सा रहे, लेकिन उन्होंने 6 मैचों में 13.75 की औसत से केवल 155 रन बनाए थे। उससे पहले भी चेन्नई सुपर किंग्स के लिए 2019 और 2020 के सीजन में नाकाम रहे थे। अब तो केदार जाधव को ऑक्शन में कोई टीम खरीदना पसंद नहीं करेगी।

क्रिस गेल

टी20 फॉर्मेट में यूनिवर्स बॉस कहे जाने वाले क्रिस गेल जैसा खतरनाक बल्लेबाज विश्व क्रिकेट ने नहीं देखा है।

टी20 फॉर्मेट में यूनिवर्स बॉस कहे जाने वाले क्रिस गेल जैसा खतरनाक बल्लेबाज विश्व क्रिकेट ने नहीं देखा है। टी20 क्रिकेट में क्रिस गेल अलग ही बल्लेबाज साबित हुए हैं, तो आईपीएल में भी उन्होंने सालों से अपना सिक्का जमा कर रखा। क्रिस गेल ने आईपीएल में बहुत धमाका किया है। लेकिन अब गेल के दिन ढल चुके हैं। वो अब पहले जैसे विस्फोटक बल्लेबाज नहीं रहे हैं। गेल पंजाब किंग्स के लिए पिछले सीजन तक खेले लेकिन उन्होंने 10 मैचों में केवल 193 रन बनाए। साथ ही वो 42 साल के हो चुके हैं। ऐसे में लगता नहीं है कि उन पर ऑक्शन में कोई टीम दांव लगाना चाहेगी।

अजिंक्य रहाणे

भारतीय टेस्ट टीम के अनुभवी बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे भी पिछले कई सालों से आईपीएल में लगातार खेलते नजर आ रहे हैं।

भारतीय टेस्ट टीम के अनुभवी बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे भी पिछले कई सालों से आईपीएल में लगातार खेलते नजर आ रहे हैं। अजिंक्य रहाणे पिछले सीजन तक दिल्ली कैपिटल्स का हिस्सा रहे। रहाणे ने वैसे तो आईपीएल में कुछ सीजन काफी प्रभावशाली प्रदर्शन किया है। लेकिन उन्हें पिछले साल केवल 2 मैच खेलने का मौका मिला सका, जहां उन्होंने केवल 6 रन बनाए तो उससे पहले 2020 के सीजन में भी रहाणे 9 मैच खेलने के बाद भी करीब 14 की औसत से 113 रन ही बना सके। रहाणे का अब आईपीएल करियर खत्म होता दिख रहा है। इस बात वो भले ही मेगा ऑक्शन में तो उतरेंगे, लेकिन उनमें दिलचस्पी शायद ही कोई दिखाएगा।

Leave a comment

Cancel reply