Dinesh Karthik

जैसे ही दिनेश कार्तिक ने आईपीएल में फिनिशर के तौर पर तेजी से रन बनाने का सिलसिला शुरू किया तो ये चर्चा साथ ही शुरू हो गई थी कि वे भारत के लिए इस साल के टी20 वर्ल्ड कप की टीम में वापसी के दावेदार हैं। हालांकि, उनकी उम्र और अब तक मिले ढेरों मौकों को देखते हुए ये वापसी किसी बड़े जोखिम से कम नहीं होगी, पर मौजूदा फॉर्म और बेहतर स्ट्राइक रेट को नजरअंदाज भी तो नहीं कर सकते, इसीलिए कई युवा विकेटकीपिंग विकल्प मौजूद होने के बावजूद कार्तिक को दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध टी20 सीरीज में खिलाया और नतीजा सामने है। 5 मैच की 4 पारी में 158.6 स्ट्राइक रेट और बॉउंड्री का औसत 3.8 गेंद के साथ 92 रन बनाए, जिसमें एक स्कोर 55 भी (डेथ ओवरों में 186.7 स्ट्राइक रेट, बॉउंड्री का औसत 3.2 गेंद से 84 रन)। इससे उन्हें वर्ल्ड कप टीम में लाने की बहस और तेज हो गई।

इस दौरान कुछ बड़ी ख़ास बात हुईं :

  1. जब राजकोट में चौथे टी20 में 55 रन बनाए तो टी20 इंटरनेशनल में 50 बनाने वाले भारत के सबसे बड़ी उम्र के बल्लेबाज बन गए।
  2. कार्तिक उस टीम में भी थे, जिसने 2006 में जोहान्सबर्ग में दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध भारत का पहला टी20 इंटरनेशनल खेला था।
  3. 27 फरवरी 2019 के बाद अपना पहला टी20 इंटरनेशनल खेला।

ये तीनों रिकॉर्ड उनके अंदर कमाल की हिम्मत के सबूत कहे जा सकते हैं। ऐसा हर कोई नहीं कर सकता। ध्यान दीजिए कि कार्तिक की उम्र 37 साल से भी ज्यादा है।

एसोशिएट सदस्य देशों की टीम की बदौलत अब टी 20 के ढेरों रिकॉर्ड अजीब से बन चुके हैं, पर अगर बड़ी टीमों को देखें तो 37+ उम्र में 50 बनाने वाले ज्यादा नहीं हैं। दिनेश कार्तिक ने अपना पहला टी20 इंटरनेशनल 50 का स्कोर बनाया तो धोनी का सबसे बड़ी उम्र में, 50 बनाने का भारतीय रिकॉर्ड भी तोड़ा- धोनी ने रिकॉर्ड 35 साल 209 दिन की उम्र में बनाया था, जबकि कार्तिक ने बनाया 37 साल 16 दिन की उम्र में।

इतनी बड़ी उम्र और 2006 से टी 20 इंटरनेशनल क्रिकेट खेल रहे हैं, तब भी दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध इस सीरीज में दिल्ली में, जो पहला टी20 खेला, वह उनका सिर्फ 33वां टी20 इंटरनेशनल था और उम्र थी 37 साल 8 दिन। सिर्फ 9 क्रिकेटर ने अपना 33वां टी20 इंटरनेशनल उनसे बड़ी उम्र में खेला है। इस मामले में पिछला भारतीय रिकॉर्ड ही 32 साल 93 दिन का था, जो 8 मार्च 2018 को शिखर धवन ने बनाया था। कई साल के अंतर से तोड़ दिया कार्तिक ने इस रिकॉर्ड को।

भारत की सबसे पहले टी20 इंटरनेशनल की टीम में दिनेश कार्तिक थे और भारत के 164वें टी20 इंटरनेशनल की टीम में भी दिनेश कार्तिक थे। इसका मतलब ये भी हुआ कि दिनेश कार्तिक का टी 20 इंटरनेशनल करियर 15 साल से भी ज्यादा चल चुका है। सिर्फ 7 खिलाड़ी ऐसे हैं, जिनका टी20 इंटरनेशनल करियर 15 साल से भी ज्यादा का है। दिनेश कार्तिक इस समय इस संदर्भ में तीसरे नंबर पर हैं। पहला मैच 1 दिसंबर 2006 को और आख़िरी मैच 19 जून 2022 को, करियर हुआ 15 साल 201 दिन का। इससे लंबा करियर सिर्फ वेस्टइंडीज के डीजे ब्रावो और क्रिस गेल का है- 15 साल 264 दिन का (पहला मैच 16 फरवरी 2006 को और आख़िरी 6 नवंबर 2021 को) और अगर दिनेश कार्तिक ऐसे ही जोश के साथ खेलते रहे तो सबसे लंबे टी20 इंटरनेशनल करियर का रिकॉर्ड उनकी पहुंच से ज्यादा दूर नहीं है।

इतने लंबे करियर में मैच कम होने के लिए दो दौर ख़ास तौर पर जिम्मेदार हैं। 12 मई 2010 से 8 जुलाई 2017 तक यानि कि 7 साल 57 दिन दिनेश कार्तिक ने कोई टी 20 इंटरनेशनल नहीं खेला (ये किसी भी भारतीय क्रिकेटर का गैरमौजूदगी का रिकॉर्ड है)। इस दौरान भारत ने 56 मैच खेले। इसके बाद 28 फरवरी 2019 से 8 जून 2022 के बीच वे फिर से 3 साल 100 दिन के लिए टीम से गायब रहे- इस दौरान भारत ने 44 मैच खेले। इसका मतलब ये हुआ कि 10 साल 157 दिन तो इन्हीं दो दौर में बीत गए 100 मैच।

Q. दिनेश कार्तिक ने अपना टी20 अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू कब, कहां और किस के खिलाफ किया था?

A. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोहांसबर्ग में, साल 2006 में.

Leave a comment

Cancel reply