5 दिग्गज कप्तान, जो टी20 विश्वकप 2022 के बाद छोड़ सकते हैं कप्तानी

ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर 16 अक्टूबर से 13 नवंबर तक टी20 विश्वकप 2022 (T20 World Cup) खेला जाएगा। इस मेगा इवेंट के शुरू होने में अब महज कुछ ही दिन बाकी हैं। ऐसे में सभी टीमें अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटी हुई हैं। टी20 विश्वकप 2022 के सुपर 12 चरण के लिए 8 टीमें भारत, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, न्यूजीलैंड, अफगानिस्तान, दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड और, बांग्लादेश क्वालीफाई कर चुकी हैं, जबकि बाकी 4 टीमों का फैसला टूर्नामेंट के पहले राउंड से किया जाएगा।

आगामी टी20 विश्वकप 2022 के बाद खेल के सबसे छोटे प्रारूप का अगला विश्वकप 2024 में खेला जाएगा। ऐसे में कई खिलाड़ियों के लिए यह टूर्नामेंट उनके करियर का आखिरी टी20 विश्वकप साबित हो सकता है। आज हमारे इस खास आर्टिकल में हम आपको ऐसे ही 5 दिग्गज कप्तानों के बारे में बताएंगे, जो इस मेगा इवेंट के बाद टी20 आई प्रारूप की कप्तानी से सन्यांस ले सकते हैं।  

IND vs SA : अब गुहावाटी की बारी जानिए कौन किस पर पड़ेगा भारी? – Video

तो चलिए नजर डालते हैं उन पांच कप्तानों पर, जिनकी टी20 विश्वकप 2022 (T20 World Cup) के बाद कप्तानी से सन्यांस लेने की संभावना है-    

केन विलियमसन (न्यूजीलैंड) –

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन फ़िलहाल खेल के तीनों प्रारूपों में ब्लैक कैप्स का नेतृत्व कर रहे हैं। शायद अधिक वर्कलोड के कारण ही वे पिछले कुछ समय से लगातार चोटिल हो रहे हैं। यही कारण है कि उन्हें आगामी टी20 विश्वकप के बाद खेल के सबसे प्रारूप की कप्तानी के भार से मुक्त किया जा सकता है। 32 साल के विलियमसन ने न्यूज़ीलैंड के लिए 56 टी20 आई में कप्तानी की है, जिनमें से 28 में उन्हें जीत मिली, जबकि 25 में शिकस्त झेलनी पड़ी है।    


एरोन फिंच (ऑस्ट्रेलिया) –

एरोन फिंच ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल कप्तानों में से एक हैं। उन्होंने पिछले वर्ष संयुक्त अरब अमीरात में आयोजित हुए टी20 विश्वकप 2021 में कंगारू टीम को पहली बार टी20 प्रारूप का चैंपियन बनाया था। मगर एक साल के भीतर ही हालात काफी बदल गए हैं। फिंच के बल्ले से बड़ी पारियां नहीं निकल पा रही हैं। ऐसे में वे टी20 विश्वकप 2022 के बाद अपनी बल्लेबाजी पर फोकस करने के लिए टी20 प्रारूप से सन्यांस ले सकते हैं। उन्होंने पीली जर्सी वाली टीम के लिए 68 टी20 आई में कप्तानी की है, जिनमें से 36 में उन्हें जीत और 29 में हार का सामना करना पड़ा है।

मोहम्मद नबी (अफगानिस्तान) –

मोहम्मद नबी 37 वर्ष के हो चुके हैं और अगला टी20 विश्वकप 2022 में खेला जाएगा, यानी तब वे 39 साल के होंगे। इतनी उम्र में खिलाड़ियों के लिए फिट रहना ही बड़ी चुनौती होती है। ऐसे में उनका टीम में सेलेक्ट होना लगभग असंभव है। नबी ने अब तक अफगानिस्तान के लिए 32 टी20 मुकाबलों में कप्तानी है, जिनमें से 16 में नीली जर्सी वाली टीम को जीत मिली, तो वहीं 16 में उन्हें हार झेलनी पड़ी है।  

शाकिब अल हसन (बांग्लादेश) –

शाकिब अल हसन ने बतौर खिलाड़ी बांग्लादेश के लिए काफी बेहतरीन प्रदर्शन किया है। मगर उनकी कप्तानी में टीम का रिकॉर्ड कुछ ज्यादा बेहतर नहीं है। इसके आलावा शाकिब अब 35 साल के हो चुके हैं और अगला टी20 विश्वकप खेलने के लिए उनकी उम्र उनके साथ नहीं है। दिग्गज ऑलराउंडर की कप्तानी में हरी जर्सी वाली टीम ने 23 टी20 आई मुकाबले हैं, लेकिन इनमें से महज 7 मैचों में बांग्लादेश को सफलता हासिल हुई, जबकि 16 में उन्हें हार का सामना करना पड़ा है।

रोहित शर्मा (भारत) –

टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा को कप्तानी की जिम्मेदारी मिले अधिक समय नहीं हुआ है। मगर 35 वर्षीय खिलाड़ी का लंबे समय तक तीनों प्रारूप में कप्तान बने रहना काफी कठिन है। ऐसे में हो सकता है कि हिटमैन अपने इंटरनेशनल करियर को बढ़ाने के लिए टी20 प्रारूप से जल्द ही सन्यांस ले सकते हैं। रोहित की कप्तानी में नीली जर्सी वाली टीम का प्रदर्शन काफी बेहतरीन रहा है। उन्होंने 43 मैचों में से 34 जीते हैं और 9 में उन्हें शिकस्त का सामना मुकाबले हारे हैं। 

Q. पहला टी20 वर्ल्डकप किसने जीता था?

A. भारत ने।

Leave a comment

Cancel reply