warner saymonds
3 ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज खिलाड़ी, जो साल 2022 में इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह गए

साल 2022 ऑस्ट्रेलियाई (Australian) क्रिकेट के लिए बेहद खराब रहा है. उन्होंने लगभग 4 माह के अंतराल में अपने तीन दिग्गज खिलाड़ियों को खो दिया है, जो कि किसी बड़े झटके से कम नहीं हैं. ये वे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेट को शीर्ष पर ले जाने में ख़ास योगदान दिया. कौन से हैं वे तीन दिग्गज, देखिए-

एंड्रयू साइमंड्स

रविवार को क्रिकेट फैंस का दिल तोड़ दने वाली खबर सामने आई कि ऑस्ट्रेलिया (Australia) के पूर्व दिग्गज ऑलराउंडर एंड्रयू साइमंड्स (Andrew Symonds) की कार दुर्घटना में मौत हो गई है, जिससे समस्त क्रिकेट जगह शौक में है. बताया जा रहा है कि शनिवार को उनकी कार सड़क से उतरने के बाद दुर्घटनाग्रस्त हो गई और अंदरूनी चोटों के कारण 46 साल के साइमंड्स ने मौके पर ही दम तोड़ दिया. उन्हें दुनिया के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर्स में गिना जाता है.

दो बार के विश्व कप विजेता ऑलराउंडर ने तीनों प्रारूप खेले और वे अपने क्षेत्ररक्षण कौशल के लिए भी जाने जाते थे. साइमंड्स ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 165 विकेट चटकाए.

यह भी पढ़ें – मंकी गेट – एंड्रयू साइमंड्स के क्रिकेट करियर का सबसे खराब विवाद, जिससे सबकुछ दहल गया

शेन वॉर्न

ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व दिग्गज लेग स्पिनर शेन वॉर्न (Shane Warne) की पिछले सप्ताह 52 साल की उम्र में हार्ट अटैक की वजह से मौत हो गई. वे इस दौरान अपने तीन दोस्तों के साथ थाईलैंड में एक विला में मौजूद थे. थाईलैंड पुलिस ने पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा था कि यह एक नेचुरल मौत थी.

1992 में अपने पदार्पण के बाद से, वार्न ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 145 टेस्ट मैच खेले, जिसमें उन्होंने 708 विकेट लिए, जो टेस्ट क्रिकेट इतिहास में दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है. वार्न ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 194 एकदिवसीय मैचों में भी 293 विकेट चटकाए.

रोड मार्श

ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज रोड मार्श (Rod Marsh) का निशान 4 मार्च को हार्ट अटैक आने की वजह से हुआ था. मार्श कई दिनों तक कोमा में थे और वे अपने आखिरी वक्त में हॉस्पिटल में एडमिट थे. मार्श दमदार बैटिंग के साथ अच्छी विकेटकीपिंग भी करते थे. मार्श 96 टेस्ट मैचों में 3633 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 3 शतक और 16 अर्धशतक लगाए थे.

उन्होंने 92 वनडे मैचों में 1225 रन बटोरे. 1970 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण करने वाले मार्श ने पहले विकेटकीपर के रूप में और फिर राष्ट्रीय चयनकर्ता के रूप में महत्वपूर्ण योगदान दिया.

Leave a comment

Cancel reply