टेस्ट क्रिकेट
अलविदा 2021: 11 खिलाड़ी, जो इस साल के हो सकते हैं बेस्ट टेस्ट प्लेइंग-11 का हिस्सा

साल 2021 कई तरह की खुशी और गम के बीच हमसें विदा ले चुका है। क्रिकेट के गलियारों में भी साल 2021 काफी मजेदार और कभी ना भूलने वाला इयर रहा। इस साल वैसे तो क्रिकेट इतना ज्यादा नहीं खेला गया, लेकिन इंटरनेशनल क्रिकेट में, जो भी क्रिकेट खेला गया, वहां रोमांच अपने चरम पर रहा।

वर्ष 2021 में टेस्ट क्रिकेट भी खूब खेला गया, जहां कई खिलाड़ियों ने खास छाप छोड़ी तो कुछ खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से निराश किया। इस साल टेस्ट फॉर्मेट में छाने वाले खिलाड़ियों की बात करें तो वो अलग-अलग देशों से रहे। इस साल के टेस्ट प्रदर्शन पर गौर करते हुए हम आपके सामने रखते हैं। इस साल की बेस्ट टेस्ट प्लेइंग-11… जो किसी भी टीम को दे सकती है मात:

रोहित शर्मा

भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा टेस्ट क्रिकेट में भी एक बड़े बल्लेबाज बनते जा रहे हैं। ये साल रोहित शर्मा के लिए काफी बेहतरीन रहा है, जहां उन्होंने कमाल की बल्लेबाजी की। इस साल रोहित शर्मा ने 11 मैचों की 21 पारियों में 906 रन बनाए, जिसमें उनके नाम 2 शतक और 4 अर्धशतक शामिल रहे।

दिमुख करूणारत्ने

श्रीलंका क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज और टेस्ट कप्तान दिमुख करूणारत्ने ने भी इस साल अपनी बल्लेबाजी से काफी प्रभावित किया। उन्होंने इस साल शानदार प्रदर्शन करते हुए केवल 7 टेस्ट मैचों की 13 पारियों में 4 शतक और 6 अर्धशतकों की मदद से 902 रन बनाए।

जो रूट (कप्तान)

इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान जो रूट का तो इस साल क्या कहना। वो तो इस साल टेस्ट क्रिकेट में जबरदस्त प्रदर्शन करने में कामयाब रहे हैं। जो रूट इस साल की शुरुआत से ही कमाल की बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा रन बनाए। उन्होंने इस साल 15 टेस्ट में 1708 रन बनाए। जिसमें उन्होंने 6 शतकीय पारियां खेली तो साथ ही 4 फिफ्टी भी जड़ी।

मार्नस लाबुशेन

ऑस्ट्रेलिया के युवा बल्लेबाज मार्नस लाबुशाने ने पिछले साल की फॉर्म को इस साल भी जारी रखा। लाबुशेन ने इस साल जोरदार बल्लेबाजी करते हुए कई बेहतरीव पारियां खेली, जिसमें उन्होंने इस साल 5 टेस्ट की 9 पारियों में 526 रन बनाए। लाबुशेन के बल्ले से इस दौरान 2 शतकों के अलावा 4 अर्धशतकीय पारियां भी निकली।

आबिद अली

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के बल्लेबाज आबिद अली का बल्ला भी इस साल खूब बोला है। आबिद अली को जब भी मौका मिला उन्होंने कमाल का प्रदर्शन किया। आबिद अली की बात करें तो उन्होंने 9 मैचों की 15 पारियों में करीब 50 की औसत के साथ कुल 695 रन बनाए। जिसमें 2 शतक और 2 अर्धशतक उनके बल्ले से निकले।

ऋषभ पंत (विकेटकीपर)

भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने भी पिछले कुछ समय से खास छाप छोड़ी है। ऋषभ पंत ने इस साल बहुत ही जबरदस्त बल्लेबाजी की है। पंत ने इस साल खेले 12 टेस्ट की 21 पारियों में 748 रन बनाए। पंत ने अपने इस प्रदर्शन के दौरान 1 शतक के साथ ही 5 अर्धशतक भी लगाए।

काइल जैमीसन

न्यूजीलैंड के स्टार ऑलराउंडर खिलाड़ी काइल जैमीसन इस साल काफी बेहतरीन प्रदर्शन करने में कामयाब रहे। कीवी गेंदबाज काइल जैमीसन ने ना केवल गेंद से बल्कि बल्ले से भी योगदान दिया। उन्होंने इस साल खेले 5 टेस्ट मैचों में 27 विकेट झटके तो साथ ही उन्होंने 105 रन भी बनाए।

अक्षर पटेल

भारतीय टीम के स्पिन गेंदबाज अक्षर पटेल ने इसी साल भारतीय टीम के लिए टेस्ट डेब्यू किया। अपने डेब्यू के बाद से ही अक्षर पटेल कमाल का प्रदर्शन कर रहे हैं। अक्षर पटेल ने इस साल बहुत ही शानदार करते हुए केवल 5 टेस्ट मैचों में ही 11.86 की बेहतरीन औसत के साथ 36 विकेट हासिल किए। उन्होंने इस प्रदर्शन से हर किसी को प्रभावित किया।

रविचंद्रन अश्विन

भारतीय क्रिकेट टीम के स्पिन गेंदबाज आर अश्विन टेस्ट क्रिकेट के बहुत ही शानदार गेंदबाज बन चुके हैं। आर अश्विन को मौजूदा समय में सबसे जबरदस्त स्पिनर माना जाता है। उन्होंने इस साल भी अपने उसी प्रदर्शन को जारी रखा और सबसे ज्यादा विकेट झटके। अश्विन ने 9 टेस्ट मैचों में 16.64 की औसत के साथ कुल 54 विकेट हासिल किए।

जेम्स एंडरसन

इंग्लैंड के महानतम तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन अपने करियर के अंतिम पड़ाव पर हैं, लेकिन उनमें विकेट लेने की भूख खत्म नहीं हो पा रही हैं। जेम्स एंडरसन उसी लय और रफ्तार से लगातार गेंदबाजी कर रहे हैं वो इस साल भी कामय रहा। एंडरसन ने इस साल 12 टेस्ट मैच में 21.74 की औसत के साथ 39 विकेट अपने नाम किए।

शाहिन शाह अफरीदी

पाकिस्तान के युवा तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी जैसे-जैसे आगे खेलते जा रहे हैं, लगातार बेहतरीन प्रदर्शन करते जा रहे हैं। शाहीन शाह अफरीदी ने अब तक तीनों ही फॉर्मेट में छाप छोड़ी है। उसी तरह से उन्होंने टेस्ट में भी कमाल किया है। शाहीन अफरीदी ने इस साल 9 टेस्ट मैचों में 17.06 की औसत के सात अश्विन के बाद 47 विकेट के साथ दूसरे सबसे सफलतम गेंदबाज रहे।

Leave a comment

Cancel reply