कोरोना वायरस महामारी के चलते इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीजन को पहले ही 15 अप्रैल तक स्थगित कर दिया गया है. IPL पर आगे की योजनाओं के लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) को इस लीग की सभी फैंचाइजियों के साथ मंगलवार को टेलिकॉन्फ्रेंस पर मीटिंग करनी थी लेकिन BCCI को इसे रद्द करना पड़ा.

मीटिंग रद्द होने के बाद अब यह अटकलें तेज हो गई हैं कि कहीं इस साल इस पेशेवर लीग का आयोजन रद्द तो नहीं हो जाएगा. भारत ने महामारी बने इस वायरस को नियंत्रण में रखने के मकसद से पूरे देश में 31 मार्च तक लॉकडाउन कर दिया है. दुनिया भर में इस घातक वायरस संक्रमण से अब तक 16,000 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं, जबकि भारत में भी करीब 500 (498) मामले सामने आ चुके हैं और 10 लोग जान गंवा चुके हैं.

किंग्स XI पंजाब के सह-मालिक नेस वाडिया से जब इस मुद्दे पर बात की गई तो उन्होंने कहा, "मानवता पहले है, इसके बाद कुछ भी दूसरे नंबर पर आता है. अभी तक स्थिति में कोई सुधारन नहीं हुआ है तो ऐसे में इसका कोई मतलब नहीं है कि अभी इस (IPL) पर बात की जाए. अगर आईपीएल नहीं होता है तो न सही."

IPL की एक और अन्य फ्रैंचाइजी के मालिक ने नाम सामने न लाने की बात कहकर कहा, "इस वक्त इस मसले पर कोई भी बात करने कोई अर्थ नहीं है. पूरा देश लॉकडाउन में है. हमें अभी उन मामलों से निपटना चाहिए जो IPL से भी बहुत ज्यादा जरूरी हैं."

Leave a comment