पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज हसन अली का मानना है कि बांग्लादेश के दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज मुशफिकुर रहीम को अपनी टीम के साथ पाकिस्तान का दौरा ज़रूर करना चाहिए. हसन अली ने पाकिस्तान को क्रिकेट के लिए महफूज़ जगह बताया है. बता दें कि रहीम ने कुछ समय पहले पाकिस्तानी दौरे पर जाने से साफ इंकार कर दिया था. उन्होंने कहा था कि वे अपने परिवार के साथ वहां का दौरा नहीं करेंगे.

हसन अली ने कहा, “आज कार्लोस ब्रैथवेट ने मुझसे पूछा कि मुशफिकुर रहीम पाकिस्तान में खेलने क्यों नहीं आ रहे हैं? इसके बाद मैंने उनसे कहा कि इसके बारे में मुझे जानकारी नहीं है, लेकिन मैं समझता हूं कि अगर उनकी टीम यहां आ रही है तो रहीम को भी उनके साथ यहां आना चाहिए. उनके नज़रिए से पाकिस्तान क्रिकेट के लिए अब एक महफूज़ देश है.”

इससे पहले रहीम ने कहा था, “मेरा परिवार पाकिस्तान की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर डरा हुआ है. इस हालात में मैं पाकिस्तान जाकर वहां क्रिकेट नहीं खेल सकता. मेरे लिए बांग्लादेश की किसी भी सीरीज से बाहर बैठना मुश्किल होता है. पाकिस्तान में सुरक्षा इंतजाम काफी बेहतर हुए हैं, लेकिन मैं अगले दो-तीन साल और इंतजार करना चाहूंगा. अगर मैं और टीमों को वहां जाते देखूंगा तो मुझे आत्मविश्वास मिलेगा.”

गौरतलब है कि पाकिस्तान में 2009 में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर आतंकी हमला हुआ था. इसके बाद पिछले साल के अंत में करीब 10 साल बाद पाकिस्तान में टेस्ट क्रिकेट की वापसी हुई. श्रीलंका ने पाकिस्तान में दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेली थी.

Leave a comment

Cancel reply