पिछला टी20 विश्व कप साल 2016 में खेला गया था और अब यह टूर्नामेंट पांच साल के अंतराल के बाद होगा।

आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 17 अक्टूबर से 14 नवंबर के बीच संयुक्त अरब अमीरात और ओमान में खेला जाएगा। पिछला टी20 विश्व कप साल 2016 में खेला गया था और अब यह टूर्नामेंट पांच साल के अंतराल के बाद खेला जाएगा। इसके आगाज में अब एक महीने का समय शेष रह गया है और टी20 की ट्रॉफी पाने के लिए 16 टीम्स एक दूसरे के साथ भिड़ेंगी।

हालांकि, टी20 इंटरनेशनल रैंकिंग की शीर्ष आठ टीम्स ने इस टूर्नामेंट के लीग चरण के लिए पहले ही क्वालीफाई कर लिया, जबकि अन्य चार टीम्स को आईसीसी टी20 विश्व कप 2021 के क्वालीफायर में मुकाबले जीतकर सुपर 12 में जगह बनानी होगी। हैरानी की बात यह है कि श्रीलंका और बांग्लादेश लीग चरण में जगह नहीं बना पाई हैं और वे क्वालीफायर में हैं। वैसे दोनों टीम्स के सुपर 12 में क्वालीफाई करने की संभावना ज्यादा है। मगर हम आपको ऐसी 5 टीम्स के बारे में बताने जा रहे हैं, जो इस आगामी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में क्वालीफाई नहीं कर पाएंगी।

ये 5 टीम्स, जो आईसीसी टी20 विश्व कप 2021 के सेमीफाइनल में नहीं पहुंच पाएंगी –

ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलिया की टीम लंबे समय से विश्व क्रिकेट में पावरहाउस में से एक रही है और वे अभी भी टीम्स पर हावी होती रही हैं, लेकिन पिछले काफी समय से उनके प्रदर्शन में गिरावट आई है। टी20 क्रिकेट की बात, जब होती है तो कंगारू टीम का नाम मजबूत टीम्स की सूची में नहीं गिना जाता है। टीम में धाकड़ क्रिकेटर्स के बावजूद ऑस्ट्रेलियाई टीम इस छोटे प्रारूप में खुद को साबित करने में नाकाम रही है। ऑस्ट्रेलिया की टीम टी20 विश्व कप के फाइनल में साल 2010 में पहली बार और आखिरी बार पहुंची थी और उसमें भी वे इंग्लैंड के हाथों हार गए थे।

टी20 अंतर्राष्ट्रीय में ऑस्ट्रेलियाई टीम की हालिया फॉर्म कुछ खास अच्छी नहीं रही है। उन्होंने वेस्टइंडीज में 4-1 से टी20 सीरीज हारी थी, जबकि बांग्लादेश के खिलाफ पहली बार द्विपक्षीय श्रृंखला में भी हार का सामना किया था। कंगारू टीम के इस प्रदर्शन को देखते हुए यह कहना गलत नहीं होगा कि टी20 विश्व कप 2021 में उनकी जीत की संभावना बहुत कम है। इंग्लैंड, वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका जैसी मजबूत टीम्स के ग्रुप में ऑस्ट्रेलिया को रखा गया है और उनकी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बनाने की उम्मीद बहुत मुश्किल है।

दक्षिण अफ्रीका

दक्षिण अफ्रीका टीम का नाम भी इस सूची में दूसरे स्थान पर शामिल है। उन्हें टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचने का कोई भी अनुभव नहीं है और इस बात का अंदाजा आप आईसीसी के इवेंट्स को देखकर लगा सकते हैं। उन्होंने अभी तक आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में जगह नहीं बनाई है और जब वे दबाव में होते हैं तो उनकी टीम बुरी तरीके से बिखर जाती है।

एबी डीविलियर्स और फाफ डु प्लेसिस के बिना प्रोटियाज अब ज्यादा मजबूत टीम नहीं दिखती है और उनके नए कप्तान टेम्बा बावुमा पर टी20 विश्व कप में बेहतरीन प्रदर्शन करने की एक बड़ी जिम्मेदारी होगी। उनका गेंदबाजी आक्रमण अच्छा दिखता है, लेकिन टीम में बल्लेबाजी क्रम इतना अनुभवी नहीं है, जिसके चलते वे संघर्ष करते नज़र आते हैं। इसी वजह से उनके टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने की संभावना भी नहीं है।

अफगानिस्तान

अफगानिस्तान उन टीम्स में से एक रही है, जो विकास के मामले में बहुत पीछे से आई है और इस बात का परिणाम हमारे सामने है। उन्होंने अपनी टीम में बहुत सारे युवा मैच विनर तैयार किए हैं और इसका सबसे बड़ा उदाहरण राशिद खान हैं, जो पिछले दो सालों में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्पिनर्स में से एक हैं।

अफगानिस्तान ने आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए एक अच्छी टीम चुनी है, लेकिन तालिबान सरकार के साथ उनके बहुत सारे मुद्दे चल रहे हैं और यह निश्चित रूप से उनके प्रदर्शन पर भारी पड़ सकता है। उनकी टीम में तेज गेंदबाजी और स्पिन आक्रमण बहुत बेहतरीन है, लेकिन उन्हें भारत और न्यूजीलैंड जैसी शानदार टीम्स के साथ ग्रुप में रखा है, जिनके चलते उनका सेमीफाइनल में जगह बनाना मुश्किल है।

पाकिस्तान

पाकिस्तान टीम ने पिछली कुछ सीरीज में अच्छा प्रदर्शन किया है और हाल ही में उनके कोचिंग स्टाफ और निदेशक में भी बदलाव हुए हैं। ऐसे में आईसीसी टी20 विश्व कप 2021 से पहले पाकिस्तानी टीम के लिए यह बदलाव थोड़े अच्छे हैं। मगर हाल ही में उनका इंग्लैंड में प्रदर्शन बहुत खराब रहा था, जिसके चलते उनका इस आगामी टूर्नामेंट में उन्हें मजबूत टीम्स में से एक नहीं देखा जाता है।

पाकिस्तान टीम के मिडिल ऑर्डर के पास ज्यादा अनुभव नहीं है, जिसके कारण वे बड़ी टीम्स के सामने संघर्ष करते नज़र आते हैं। हालांकि, उनका तेज गेंदबाजी और स्पिन आक्रमण बेहतर है, लेकिन वे न्यूजीलैंड और भारत जैसे मजबूत टीम्स से बहुत पीछे हैं। पाकिस्तान को आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 के ग्रुप बी में न्यूजीलैंड, भारत और अफगानिस्तान के साथ रखा है। अफगानिस्तान टीम को छोड़कर कीवी और भारतीय टीम पाक टीम से हर मामले में जबरदस्त हैं और ऐसे में उनका टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने का सपना पूरा नहीं हो सकता है।

बांग्लादेश

बांग्लादेश क्रिकेट टीम भी इस सूची में पांचवें स्थान पर काबिज है। बांग्लादेश ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड जैसी मजबूत टीम्स को टी20 इंटरनेशनल सीरीज में पराजित किया है। पिछले कुछ समय में बांग्लादेश की टीम ने टी20 प्रारूप में अच्छा प्रदर्शन किया है। उन्होंने आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए टीम भी अच्छी चुनी है, लेकिन उन्होंने अभी टूर्नामेंट के सुपर 12 में जगह नहीं बनाई है। उसमें जगह बनाने के लिए उन्हें अन्य 7 टीम्स के साथ मुकाबले खेलने होंगे।

हालांकि, सुपर 12 में बांग्लादेश की टीम जगह बनाने की प्रबल दावेदार है, लेकिन सेमीफाइनल में उसके सामने भारत, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, वेस्टइंडीज जैसे जबरदस्त टीम्स है, जिनके चलते उनका वहां तक पहुंचना मुश्किल है।

Leave a comment