आज के दौर में हरफनमौला खिलाड़ी अपनी टीम के लिए एक विशेष स्तंभ बन गए हैं।

क्रिकेट खेल में हर दिन ऑलराउंडर के प्रदर्शन में बेहतरीन बदलाव हो रहे हैं। रविंद्र जडेजा, बेन स्टोक्स, शाकिब अल हसन जैसे हरफनमौला खिलाड़ियों का नाम दुनिया के बेस्ट ऑलराउंडर्स की सूची में गिना जाता है। इन खिलाड़ियों को ‘थ्री-डी प्लेयर’ भी कहते हैं, क्योंकि यह क्रिकेटर्स बल्ले, गेंद और फील्डिंग में शानदार प्रदर्शन करते हैं। यही वजह है कि अब सभी क्रिकेट टीम्स ऐसे ही ‘थ्री-डी खिलाड़ियों’ को टीम में शामिल करने के बारे में सोच रही हैं, जो उनके लिए खेल के तीनों डिपार्टमेंट में शानदार प्रदर्शन करें।

आज के दौर में हरफनमौला खिलाड़ी अपनी टीम के लिए एक विशेष स्तंभ बन गए हैं। हालांकि, कई बार उनके योगदान के लिए उन्हें उचित श्रेय नहीं मिलता है। आज हम, ऐसे 5 दिग्गज हरफनमौला खिलाड़ी के बारे में बताएंगे, जिन्होंने टेस्ट प्रारूप में 300 से अधिक विकेट और पांच से ज्यादा शतक लगाए हैं।

ये हैं टेस्ट क्रिकेट में 300 से अधिक विकेट और पांच से ज्यादा शतक लगाने वाले 5 ऑलराउंडर-

रविचंद्रन अश्विन – 5 शतक, 409 विकेट

भारतीय टीम के दिग्गज हरफनमौला खिलाड़ी रविचंद्रन अश्विन का नाम इस सूची में शामिल है। पिछले कुछ सालों से अश्विन बल्ले और गेंद दोनों से शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने कई बार टीम की जीत में अपनी गेंदबाजी और बल्लेबाजी से अहम योगदान दिया है। वे टेस्ट मैच का रुख बदलने का दम रखते हैं।

34 साल के दाएं हाथ के स्पिनर ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के विरुद्ध टेस्ट सीरीज में बल्ले और गेंद से बेहतरीन योगदान दिया था। अश्विन ने आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में अब तक 67 विकेट चटकाए हैं। इतना ही नहीं उन्होंने टेस्ट प्रारूप में 400 विकेट लेने का आंकड़ा भी पार कर लिया है। आर अश्विन ने अब तक भारत के लिए 78 टेस्ट मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने 24.69 के औसत और 2.81 के इकॉनमी रेट से 409 विकेट चटकाए हैं। वहीं, अश्विन ने 5 शतक और 11 अर्धशतक की मदद से 2656 रन बनाए हैं।

डेनियल विटोरी – 6 शतक, 362 विकेट

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान डेनियल विटोरी का नाम भी इस सूची में शुमार है। पूर्व कीवी क्रिकेटर का नाम दुनिया के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडर्स में गिना जाता है। विटोरी बल्ले और गेंद दोनों से अपनी टीम को जीत दिलाने का दम रखते थे। उन्होंने कई बार न्यूजीलैंड की जीत में अहम भूमिका निभाई थी।

42 साल के पूर्व कीवी स्पिनर ने 2015 आईसीसी वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड की हार के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। डेनियल विटोरी ने टेस्ट प्रारूप में 113 मुकाबलों में 34.36 के औसत और 2.59 के इकॉनमी रेट से 362 विकेट चटकाए। वहीं, विटोरी ने 6 शतक और 23 अर्धशतक की मदद से 4531 रन बनाए हैं।

इमरान खान – 6 शतक, 362 विकेट

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इमरान खान का नाम भी इस सूची में शुमार है। उन्होंने ही क्रिकेट जगत में ऑलराउंडर्स का चलन शुरू किया था। वे बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में माहिर थे। उनका नाम दुनिया के सर्वश्रेष्ठ हरफनमौला खिलाड़ियों में गिना जाता है। वे अपनी टीम को अपने दम पर जीताने का माद्दा रखते थे।

68 साल के पूर्व दाएं हाथ के तेज गेंदबाज की कप्तानी में पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने 1992 विश्व कप जिता था। इमरान खान के टेस्ट प्रारूप के आंकड़े भी जबरदस्त हैं। उन्होंने 88 मुकाबलों में 22.81 के औसत से 362 विकेट हासिल किए, जबकि 6 शतक और 18 अर्धशतक की मदद से 3807 रन बनाए।

कपिल देव – 8 शतक, 434 विकेट

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव सही मायनों में भारतीय क्रिकेट में पहले हरफनमौला खिलाड़ी थे। उनका नाम भी इस सूची में शामिल हैं। उन्होंने भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट हासिल किए थे। हालांकि, बाद में उनका यह रिकॉर्ड पूर्व दिग्गज स्पिनर अनिल कुंबले ने तोड़ दिया था। कपिल देव की कप्तानी में भारत ने पहली बार साल 1983 में विश्व कप जिता था। उसके बाद से भारतीय दर्शकों के बीच क्रिकेट और भी लोकप्रिय हो गया।

62 साल के पूर्व भारतीय हरफनमौला खिलाड़ी ने टेस्ट क्रिकेट में गेंद और बल्ले दोनों से शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने टेस्ट में भारत के लिए 400 से अधिक विकेट और 8 शतक जड़े हैं। कपिल देव ने 131 टेस्ट मुकाबलों में 29.64 के औसत और 2.78 के इकॉनमी रेट से 434 विकेट लिए हैं। वहीं, उन्होंने 8 शतक और 27 अर्धशतक की मदद से 5248 रन बनाए।

इयान बॉथम – 14 शतक, 383 विकेट

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान इयान बॉथम का नाम भी इस सूची में शामिल है। भारतीय क्रिकेट इतिहास में कपिल देव का जो मुकाम है वही स्थान इंग्लैंड क्रिकेट इतिहास में पूर्व इंग्लिश हरफनमौला खिलाड़ी बॉथम का है। बॉथम ने गेंद और बल्ले से कई शानदार पारियां खेलीं। उन्होंने कई बार अपनी टीम की जीत में गेंदबाजी और बल्लेबाजी दोनों से अहम भूमिका निभाई थी।

65 साल के पूर्व ऑलराउंडर ने टेस्ट क्रिकेट में 300 से अधिक विकेट हासिल किए हैं। इयान बॉथम ने टेस्ट क्रिकेट में 102 मुकाबलों में 28.40 के औसत से 383 विकेट चटकाए थे। वहीं, उन्होंने 14 शतक और 22 अर्धशतक की मदद से 5200 रन बनाए।

Leave a comment